पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संवाद यात्रा:शिकायत मिली है-लोगों का रिस्पांस नहीं लेते अफसर, नेता की भी नहीं सुनते : उपेंद्र

पूर्णिया13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सर्किट हाउस में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान जदयू संसदीय दल के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा। - Dainik Bhaskar
सर्किट हाउस में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान जदयू संसदीय दल के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा।
  • जदयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष कुशवाहा बोले-अधिकारियों को सुनना ही पड़ेगा, ऐसी चीजें सीएम टॉरलेट नहीं करेंगे

जदयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि बिहार संवाद यात्रा के दौरान ऐसी शिकायत मिली है कि अधिकारी जनता का रिस्पांस नहीं लेते हैं। मंगलवार को पूर्णिया में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए उन्होंने बताया कि छठे चरण की यात्रा के दौरान अगल-अलग समस्याओं से लोगों ने अवगत कराया है। इसमें जनरल समस्या अधिकारी के रिस्पांस को लेकर था। अधिकारियों को जितना रिस्पांस जनता के कार्यों के लिए लेना चाहिए, उतना नहीं ले रहे हैं। अधिकारियों को सीएम नीतीश कुमार के संदेश को ग्रहण करना चाहिए। ऐसी चीज मुख्यमंत्री टॉलरेट नहीं करेंगे। हमारे पार्टी के साथियों ने भी बताया कि पार्टी के अधिकृत लोगों की बात अधिकारी नहीं सुनते हैं। वह रिस्पांस नहीं करते हैं। तो,मैं यह कहना चाहूंगा कि अधिकारियों को पार्टी नेताओं की बातें सुननी ही पड़ेगी। उनका जो उचित काम है करें,जो अनुचित है नहीं करें। मैं बिहार यात्रा पर निकला हूं। अधिकांश जिलों में यात्रा संपन्न हो गई है। छठे चरण में यात्रा की शुरुआत खगड़िया से हुई है। सीएम के प्रति भरोसा का भाव है। सरकारी योजनाओं का लाभ लोगों को शत-प्रतिशत मिले,इसके लिए पार्टी के साथियों को ध्यान देना होगा। प्रेसवार्ता में मंत्री लेशी सिंह,जिलाध्यक्ष श्रीप्रसाद महतो समेत पार्टी के वरिष्ठ प्रांतीय नेता मौजूद थे।
जनसंख्या नियंत्रण जरूरी, पर यह लाठी के बल पर नहीं : उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण जरूरी है,पर यह लाठी के बल पर नहीं होगा। इसके लिए महिलाओं को शिक्षित करना बहुत जरूरी है। उन्होंने बताया कि एक रिपोर्ट के अनुसार कम पढ़ी लिखी महिला की अपेक्षा मैट्रिक पास महिला के यहां प्रजनन दर कम है और इंटर तक पढ़ाई की हुई महिला के यहां और भी कम। इसलिए महिलाओं को शिक्षित करके ही जनसंख्या पर नियंत्रण किया जा सकता है। श्री कुशवाहा ने कहा कि जनसंख्या आज बड़ी समस्या है। इसके लिए सीएम नीतीश कुमार ने महिलाओं की शिक्षा पर विशेष जोर दिया। इसके बहुआयामी असर होते हैं।

कहा-चिराग पर नीरज बबलू का बयान अधिकृत नहीं, मैं क्या बोलूं
लोजपा नेता चिराग पासवान के संबंध में भाजपा नेता मंत्री नीरज सिंह बबलू के बयान चिराग एनडीए का हिस्सा थे और रहेंगे,के संबंध में उन्होंने कहा कि बबलू का बयान भाजपा का अधिकृत बयान नहीं है। इस पर मैं क्या बोलूंगा। जदयू की ओर से पार्टी के संबंध में बयान देने के लिए मैं भी अधिकृत नहीं हूं।

100 साल पुराने आंकड़े से कैसे मिलेगा लाभ इसलिए जाति जनगणना पर सीएम ने की पहल
उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि जाति जनगणना पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहल की है। 100 साल पुराने आंकड़े से लोगों को उचित लाभ कहां से मिलेगा। इसके लिए फ्रेश आंकड़ा होना चाहिए। देश की लगभग पार्टियां जातीय जनगणना के पक्ष में हैं।
अगर संगठन में जरूरत होगी तो होंगे बदलाव
संवाद यात्रा के छठे चरण में पूर्णिया पहुंचे उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि वे सभी 38 जिलों में जा रहे हैं। इस दौरान संगठनात्मक फीडबैक भी मिल रहे हैं। अगर संगठन में बदलाव की जरूरत होगी तो किए जाएंगे। जदयू को फिर से नंबर वन पार्टी बनाना है। इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने यूपी चुनाव में जदयू के चिन्हित सीटों पर चुनाव लड़ने की बात कही।

खबरें और भी हैं...