परेशानी:रानीपतरा-रजीगंज सड़क का निर्माण शिलान्यास के 11 माह बाद भी बाधित

पूर्णिया पूर्व10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पिछले दो वर्षों से जर्जर है सड़क, बने बड़े-बड़े गड्ढे

पूर्णिया पूर्व प्रखंड के रानीपतरा बाजार से रजीगंज होते हुए श्रीनगर चौक जाने वाली मुख्य सड़क की स्थिति पिछले दो वर्षों से काफी जर्जर है। मालूम हो की सड़क जितनी तेजी से बनी थी उतनी ही तेजी से वह धूल धूसरित हो गयी। बड़े बड़े गढ़े में सड़क आय दिन दुर्घटना का गवाह बनती जा रही है। जिससे आम अवाम परेशानी में है । 2010 ई में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के अंतर्गत लगभग 32 लाख की लागत से इस सड़क का निर्माण कार्य हुआ था। जिसकी दूरी 7.480 किलोमीटर की है। सड़क निर्माण होने के बाद धीरे धीरे गढ्ढे में तब्दील हो रही है। आज स्थिति यह हे की इस सड़क से चलने वाले लोगों को काफी समस्या झेलनी पड़ती है। इस सड़क के माध्यम से रजीगंज,फसिया, मोतीनगर,श्रीनगर आदी गांवों के हजारों लोग प्रतिदिन सफर करते हैं। मालूम हो कि रानीपतरा बाजार के पास अगर किसी कारणवश जाम की समस्या उतपन्न हो जाती है, तो ज्यादातर गाड़ी इसी सड़क के माध्यम से होकर गुजरती है। लेकिन सड़क खराब होने के लोगों को काफी कठनाई झेलनी पड़ती है। रजीगंज गांव के हीं गौरव कुमार, विनय साह, अनील साह का कहना हे की ये गांव सेकड़ों की आबादी की है। इस गांव में लगभग 100 घर है लेकिन सड़क की स्थिती काफी खराब है। सड़क का शिलान्यास का ग्यारह माह बीत गया है लेकिन संवेदक के लापरवाही के कारण अब तक निर्माण कार्य बाधित है। वहीं ग्रामीण मंटू चौधरी बताते हैं कि हमलोगों ने कई बार स्थानीय जनप्रतिनिधि से सड़क की समस्या को लेकर शिकायत की। इसके बाद सड़क निर्माण को लेकर शिलान्यास किया गया है। लेकिन अब तक निर्माण कार्य चालू नहीं हुआ। बरसात के माह में हमलोगों को आवागमन में काफी परेशानी उठानी पड़ती है।

खबरें और भी हैं...