सफलता:दूसरे प्रयास में रिशा ने नीट परीक्षा में लाया 811वां रैंक, डॉक्टर बनने का सपना पूरा

पूर्णियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कड़ी मेहनत और माता-पिता के मार्गदर्शन से मिली सफलता : रिशा

पूर्णिया की बेटी रिशा रानी मौर्य ने ऑल इंडिया नीट परीक्षा में 811वां रैंक प्राप्त कर पूर्णिया का नाम रोशन किया है। रिशा ने बताया कि कड़ी मेहनत व माता पिता के मार्गदर्शन और शिक्षकों के सही दिशा निर्देश का यह फल है। रिशा रानी ने यह सफलता दूसरी बार में हासिल की है। इसके साथ ही उसका डॉक्टर बनने का सपना साकार हो गया। रिशा के पिता अवधेश कुमार मंडल ने बताया रिशा बचपन से ही पढने में तेज थी। बताया कि दसवीं तक मिलिया कान्वेंट में शिक्षा हासिल की, उसके बाद झारखंड से इंटर किया। पढ़ाई की लालसा देखते हुए कोटा एलन में दाखिला दिलाया, जिसके बाद यह सफलता हासिल की है। रिशा की मां रानी कुमारी अपनी बेटी की सफलता से खुश है। उन्होंने बताया कि कोटा में रहते हुए भी वह हमेशा अपने बैच में टॉपर रही है। रिशा के पिता कृषि विभाग में कर्मचारी है। उन्हें एक पुत्र और एक पुत्री है। पूर्णिया के रजनी चौक स्थित छठ पोखर उनका आवास है। ऑल इंडिया नीट परीक्षा में 811वां रैंक प्राप्त करने के बाद लोग रिशा को बधाई देने पहुंच रहे है। बधाई देने पहुंचे खुदरा खाद बीज बिक्रेता संघ के प्रदेश अध्यक्ष निरंजन कुशवाहा रिशा को मिठाई खिलाते हुए कहा कि वे इस परिवार के काफी करीब रहे है। मैंने देखा कि कभी बेटा और बेटी में फर्क नहीं किया गया। बेटी को भी उसी तरह तन मन धन से पढ़ाया गया। रिशा ने जो आज यह उपलब्धि हासिल की है, इससे पूर्णिया के बेटियो को सिख मिलेगा और अभिभावक भी बेटियों को आगे बढ़ाएंगे।

खबरें और भी हैं...