पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कुपोषितों का होगा पोषण:चाइल्ड ओपीडी में आए कुपोषित बच्चे भेजे जाएंगे एनआरसी

पूर्णिया5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सदर अस्पताल स्थित पोषण-पुनर्वास केंद्र में बैठक करते स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी।

जिले के सदर अस्पताल में कुपोषित बच्चों को सुपोषित बनाने के लिए कार्यरत पोषण पुनर्वास केंद्र के सफल संचालन के लिए पोषण पुनर्वास केंद्र भवन में समीक्षात्मक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में पोषण पुनर्वास केंद्र (एनआरसी) के सफल संचालन, बच्चों की उपलब्धता, नए स्वास्थ्य कर्मियों का प्रशिक्षण आदि विषयों पर चर्चा की गई। बैठक के दौरान क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबंधक नजमुल होदा ने कहा कि जिला सदर अस्पताल में पोषण पुनर्वास केंद्र में कुपोषित बच्चों की उपलब्धता में कमी देखी जा रही है। पोषण पुनर्वास केंद्र में बच्चों की उपलब्धता बढ़ाने के लिए यूनिसेफ के सहयोग से जिले के सभी आशा फैसिलेटर, प्रखंड सामुदायिक उत्प्रेरक, आरबीएके चिकित्सकीय दल को प्रशिक्षण भी दिया गया है। बैठक में उन सभी कर्मियों को कम से कम दो कुपोषित बच्चों का स्क्रीनिंग करके प्रतिमाह पोषण पुनर्वास केंद्र में भेजने के लिए निर्देशित किया गया। ऐसा न करने की स्थिति में सम्बंधित स्वास्थ्य पदाधिकारी को स्पष्टीकरण देना होगा। बैठक में एनआरसी के नोडल पदाधिकारी डॉ. सुरेंद्र दास, ज़िला स्वास्थ्य समिति की ओर से जिला अनुश्रवण मूल्यांकन पदाधिकारी दीपक कुमार विभाकर, केयर इंडिया के डीटीएल आलोक पटनायक, सदर अस्पताल के स्वास्थ्य प्रबंधक सिम्पी कुमारी, यूनिसेफ से सी-मैम कंसलटेंट मेघा कुमारी, एनआरसी के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी निशि कुमारी, एनआरसी के जीएनएम गुलशन, एनआरसी के डायटीशियन स्मृति राज व एएनएम रेखा कुमारी उपस्थित थी।

कुपोषित और अतिकुपोषित बच्चों की होगी स्क्रीनिंग
क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबंधक नजमुल होदा ने कहा कि स्वास्थ्य जांच के लिए जिले के बहुत से बच्चे चाइल्ड ओपीडी में आते हैं। ऐसे में वहां पाए गए कुपोषित और अतिकुपोषित बच्चों की स्क्रीनिंग कर उसे पोषण पुनर्वास केन्द्र (एनआरसी) रेफर किया जाएगा। इसके लिए सीबीसी गौतम कुमार को सोमवार, बुधवार एवं शुक्रवार, जबकि आरबीएसके से सैयद शाकिब को मंगलवार, बृहस्पतिवार एवं शनिवार को चाइल्ड ओपीडी में उपस्थित रहने का निर्देश दिया गया है। साथ ही साथ पोषण पुनर्वास केंद्र के सफल संचालन के लिए नियुक्त नए स्वास्थ्य कर्मियों में फीडिंग डिमोस्ट्रेटर के लिए स्मृति राज, सीबीसी एक्सटेंडर में गौतम कुमार व आरबीएसके से सैयद साकिब को प्रशिक्षण दिया गया है।

डिस्चार्ज के बाद दो माह तक 15 दिन में फॉलोअप
क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबंधक नजमुल होदा ने कहा कि पोषण पुनर्वास केंद्र में अतिकुपोषित बच्चे को 21 दिनों के लिए रखा जाता है। उन्हें डाक्टरी सलाह के मुताबिक ही डाइट दी जाती है। एनआरसी में उपस्थित बच्चों का एंटीबायोटिक्स से इलाज करना, भर्ती कुपोषित बच्चों की 24 घंटे देखभाल करना, सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमियों में सुधार हेतु ससमय पूरक आहार देना, अभिभावकों को भी निर्धारित मेनू के आधार पर भोजन देना, माँ या अन्य देखभाल करने वालों को उचित खानपान, साफ-सफाई के विषय पर विमर्श देना, डिस्चार्ज के बाद 2 माह तक हर 15 दिन में फॉलोअप करना इत्यादि को बढ़ावा दिया जायेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप सभी कार्यों को बेहतरीन तरीके से पूरा करने में सक्षम रहेंगे। आप की दबी हुई कोई प्रतिभा लोगों के समक्ष उजागर होगी। जिससे आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा तथा मान-सम्मान में भी वृद्धि होगी। घर की सुख-स...

और पढ़ें