पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

तीन घंटे जांच:एक अग्निशमन यंत्र नहीं हुआ फायर, दूसरे में पानी का प्रेशर नहीं, इसलिए भड़की थी आग

पूर्णिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जांच टीम को बरगलाने की कोशिश : मरंगा के बियाडा स्थित पुनरासर जूट पार्क में जांच करती टीम। जली बोरियों के बीच रखे गए अग्निशमन यंत्र पर जरा सी आग लगने के निशान नहीं है। यह कैसे संभव हो सकता है? - Dainik Bhaskar
जांच टीम को बरगलाने की कोशिश : मरंगा के बियाडा स्थित पुनरासर जूट पार्क में जांच करती टीम। जली बोरियों के बीच रखे गए अग्निशमन यंत्र पर जरा सी आग लगने के निशान नहीं है। यह कैसे संभव हो सकता है?
  • बियाडा स्थित पुनरासर जूट पार्क में लगी आग मामले की सामने आई सच्चाई
  • जली मशीनें व जूट के राख के बगल में जगह-जगह रखे गए अग्निशमन यंत्र देख आश्चर्यचकित हुए अधिकारी, पूछा- आग में अग्निशमन यंत्र झुलसा तक नहीं

मरंगा के बियाडा स्थित पुनरासर जूट पार्क में आग लगी या लगाई गई, इसकी जांच करने शनिवार को जिला लोक शिकायत पदाधिकारी जावेद अहसन अंसारी के नेतृत्व में तीन सदस्यीय टीम जूट पार्क पहुंची। जांच टीम में जिला शाखा विकास प्रभारी सुनीता कुमारी व उद्योग विभाग के महाप्रबंधक संजय कुमार वर्मा शामिल थे। टीम ने लगभग तीन घंटे तक पूरे पार्क का गहन जांच की। इस दौरान कई खामियां दिखी। टीम के सामने ये बाते आई कि अगलगी के समय जब अग्निशमन यंत्र को फायर किया गया तो वह फायर हुआ ही नहीं, जबकि दूसरे में पानी का प्रेशर ही नहीं बना। वहीं जूट पार्क में तीन महीने से सीसीटीवी कैमरे का खराब होना भी कई तरह का संदेह उत्पन्न करता है। जांच के दौरान ऐसा लगा कि टीम को दिखाने के लिए कुछ अग्निशमन यंत्र इधर-उधर रख दिए गए थे। ऐसे अग्निशमन यंत्र देख अधिकारी आश्चर्यचकित भी हुए। उन्होंने पूछा- आग में अग्निशमन यंत्र झुलसा तक नहीं? जूट पार्क से संबंधित कागजातों की जांच के बाद उसकी सत्यापित कॉपी भी ली गई। जांच टीम के सदस्यों ने अगलगी के मौजूद कर्मियों से घटना की जानकारी ली। स्पेनिंग मशीन के कर्मी गौतम कुमार सिंह से जब पूछा गया कि आग जब लगी तो उसने क्या किया। गौतम ने बताया कि मशीन में जब आग लगी तो उसने अग्निशमन यंत्र को फायर किया, लेकिन अग्निशमन यंत्र ने काम ही नहीं किया। फिर उसने दूसरी मशीन से पानी देना चाहा लेकिन पानी के पाइप में प्रेशर ही नहीं था। तब तक आग दूसरी मशीन में लग चुकी थी और देखते देखते आग बढ़ती ही चली गई। जूट पार्क के कर्मियों ने बताया कि आग जब काफी तेजी से फैलने लगी तो हमलोग जान बचाकर वहां से भाग निकले।

यह जानकारी भी ली-जूट पार्क घाटे में तो नहीं

जांच टीम के नेतृत्वकर्ता जावेद अहसन अंसारी ने बताया कि वे जूट पार्क के जीएम से आग लगने से कितने का नुकसान हुआ है, यहां कितने कर्मी काम करते हैं, कितना रॉ मेटेरियल था। जूट पार्क में काम करने वाले कर्मियों का श्रम विभाग से इंश्योरेंस था या नहीं,प्रदूषण का एनओसी है या नहीं, कर्मियों को मानदेय कितना दिया जाता था, जूट पार्क घाटे में तो नहीं चल रहा था, आदि की लिखित जानकारी ली है। जूट पार्क के अधिकारी ने बताया कि जूट पार्क में आग लगने से 75 टन जूट का कच्चा रॉ मेटेरियल व 159 टन तैयार रॉ मेटेरियल सहित जूट मशीन आदि जलकर राख हुई है। इसमें मात्र 12 टन रॉ मेटिरियल बचा है।

जांच टीम को दिखाने के लिए रखा गया यंत्र
जांच टीम के अधिकारी जब जूट पार्क जहां आग लगी थी, का निरीक्षण किया तो जांच में कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए। टीम ने जूट मशीन के बगल में रखे अग्निशमन यंत्र की जब जांच की तो कोई अप-टू-डेट नहीं था। किसी में 2013 तो किसी में 2017 आदि का डेट दिया हुआ था। जांच टीम के अधिकारियों ने जब जीएम से पूछा कि अग्निशमन यंत्र की रिफिलिंग इससे पहले कब की गई थी तो उन्होंने बताया कि तीन माह पहले ही कराया गया था। लेकिन, किसी अग्निशमन यंत्र में तीन माह पहले की कोई तिथि नहीं थी। देखने से लगता था कि अधिकांश अग्निशमन यंत्र आग लगने के बाद जूट पार्क में जगह-जगह रख दिया गया है। जली जूट मशीन व राख पर रखे अग्निशमन यंत्र खुद ही बयां कर रहा था कि उसे कहीं से लाकर रख दिया गया है।

खराब सीसीटीवी कैमरा खड़े कर रहा सवाल
जांच के दौरान जब जांच अधिकारी ने जूट पार्क के जीएम जितेन्द्र कुमार सिंह से पूछा कि जूट पार्क में सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ था या नहीं, तो जीएम श्री सिंह ने कहा कि जूट पार्क के कार्यालय में लगा सीसीटीवी कैमरा पिछले तीन माह से खराब है। अधिकारी ने कहा कि सीसीटीवी कैमरा खराब रहना सवाल खड़े करता है।

जूट पार्क में नहीं थे आग बुझाने के यंत्र
प्रथम दृष्टया लापरवाही की बात सामने आ रही है। जूट पार्क में आग बुझाने का सभी इंतजाम नहीं थे। बार-बार आग लगने की घटना के बाद भी सुरक्षा का इंतजाम नहीं होना समझ से परे है। जल्द ही टीम जिलाधिकारी को रिपोर्ट सौंप देगी।
जावेद अहसन अंसारी, नेतृत्वकर्ता, जांच टीम

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें