बैठक:पेंशनधारियों के जीवन प्रमाणीकरण का काम लंबित

पूर्णियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सामाजिक सुरक्षा निदेशालय ने 31 दिसंबर तक जीवन प्रमाणीकरण करवाने का दिया निर्देश
  • प्रखंडस्तर पर पंचायतवार कैंप लगाकर जीवन प्रमाणीकरण का निर्देश

जिले के 1.5 लाख सामाजिक सुरक्षा योजना का लाभ पाने वाले लाभुकों के जीवन प्रमाणीकरण का काम अभी तक नहीं हो सका है। सामाजिक सुरक्षा निदेशालय के निदेशक ने सभी जिलाधिकारी को पत्र लिखकर 15 से 31 दिसंबर तक पेंशन योजना का लाभ लेने वाले लाभुकों के जीवन प्रमाणीकरण कार्य करवाने का निर्देश दिया है। साथ ही कहा कि 31 दिसंबर तक जीवन प्रमाणीकरण का कार्य नहीं करवाने वाले लाभुकों को पेंशन का नियमित भुगतान प्रभावित हो जाएगा। सिर्फ ऐसे से लाभुकों को पेंशन की राशि दी जाएगी, जिनका जीवन प्रमाणीकरण पूर्ण रहेगा। निदेशालय ने कहा है कि वैसे लाभार्थी जिन्होंने एक साल के अंदर एक बार भी जीवन प्रमाणीकरण नहीं करवाया है, वह सीएससी सेंटर के अलावा प्रखंड कार्यालय में भी करवा सकते हैं। सहायक निदेशक, जिला सामाजिक सुरक्षा कोषांग अमरेश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि पूर्व में भी विभाग के द्वारा सीएससी व प्रखंड कार्यालय में पेंशन योजना के लाभुकों का जीवन प्रमाणीकरण का कार्य करवाया गया था।लेकिन कई लोग जीवन प्रमाणीकरण करवाने से वंचित रह गए थे।उन्होंने बताया कि जिले में 1.5 लाख से ज्यादा लोगों के जीवन प्रमाणीकरण का काम लंबित है।विभागीय निर्देश के अनुसार सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को पत्र लिख कर विकास मित्र, आंगनवाड़ी सेविका,सहायिका पंचायत रोजगार सेवक के माध्यम से लाभुकों को प्रेरित कर जीवन प्रमाणीकरण का काम निर्धारित अवधि के दौरान करवाने का निर्देश दिया है।लाभुकों को जीवन प्रमाणीकरण के दौरान किसी भी तरह की परेशानी नहीं हो इसके लिए पंचायत वार रोस्टर का निर्धारण कर कैंप मोड में लक्ष्य प्राप्ति का निर्देश दिया है।साथ ही कहा कि अगर लाभुक निर्धारित अवधि तक जीवन प्रमाणीकरण नहीं करवाते हैं तो उनका पेंशन बाधित हो सकता है।पेंशन का लाभ लेने के लिए जीवन प्रमाणीकरण अनिवार्य है।

प्रखंडवार लंबित प्रमाणीकरण

श्रीनगर- 4289 जलालगढ़- 4750 कसबा- 6819 बैसा- 7994 भवानीपुर- 9233 डगरुआ- 10290 बीकोठी- 10305 केनगर- 10968 रुपौली- 11205 अमौर- 13000 बनमनखी- 15053 धमदाहा- 15137 बायसी- 15324 पूर्णिया पूर्व- 15979

प्रखंड मुख्यालय के साथ-साथ सीएससी केंद्र पर भी करवा सकते हैं प्रमाणीकरण
सहायक निदेशक श्री कुमार ने बताया कि जीवन प्रमाणीकरण के लिए पहले ही प्रखंडों में फिंगर स्कैनर व आइरिस डिवाइस उपलब्ध करवाया गया है। उन्होंने कहा कि कई बार अंगुलियों की गड़बड़ी के कारण से पेंशन योजना के लाभुकों का प्रमाणीकरण नहीं हो पाता है।ऐसी स्थित में आइरिस डिवाइस के माध्यम से लाभुकों का प्रमाणीकरण किया जाएगा।उन्होंने कहा कि लाभुक प्रखंड मुख्यालय में निःशुल्क या सीएससी सेंटर पर निर्धारित शुल्क के माध्यम से प्रमाणीकरण करवा सकते हैं।

खबरें और भी हैं...