10 दिन पहले बचे, आज मारे गए जिला पार्षद पति:पूर्णिया में थाने के पास विश्वजीत सिंह की हत्या, 3 नवंबर को बच गए थे

पूर्णिया8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विश्वजीत सिंह की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
विश्वजीत सिंह की फाइल फोटो।

पूर्णिया के सरसी में वर्तमान जिला परिषद् सदस्य के पति विश्वजीत सिंह उर्फ रिंकू सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। हत्या की यह वारदात शाम छह बजे के करीब की है। उन्हें सरसी थाना के पास ही बाइक सवार बेखौफ अपराधियों ने गोली मारी और फरार हो गए। विश्वजीत सिंह पर 10 दिन पहले भी जानलेवा हमला हुआ था।

विश्वजीत सिंह पूर्व जिला परिषद सदस्य भी रह चुके हैं। उनकी पत्नी अनुलिका सिंह वर्तमान जिला परिषद सदस्य है। बताया जा रहा है कि वह शुकवार की शाम किसी काम से सरसी बाजार आए थे, तभी अपराधियों ने इस वारदात को अंजाम दिया। गोली लगने से विश्वजीत सिंह की घटनास्थल पर ही मौत हो गई है। इसके बाद सरसी बाजार में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। लोगों ने सरसी थाना को घेर लिया है और सुरक्षा-व्यवस्था पर सवाल उठा रहे हैं।

घटनास्थल पर पड़ा विश्वजीत सिंह का शव।
घटनास्थल पर पड़ा विश्वजीत सिंह का शव।

10 दिन पूर्व विश्वजीत सिंह पर चलाई थी गोली

दीपावली से एक दिन पूर्व दिनांक 3 नवंबर 2021 को सरसी के कुख्यात अपराधी आशीष सिंह उर्फ जटिया ने विश्वजीत के उपर गोली चलाई थी। इसमें वह बाल-बाल बच गए थे। उन्होंने सरसी थाना में आशीष सिंह के उपर कांड संख्या 146/21 दर्ज कराया था। मामला दर्ज होने के बाद से अपराधी आशीष फरार हो गया था।

पूर्णिया में जिला पार्षद पति जा रहे थे घर, बीच रास्ते में रोककर पहले की बहस फिर चला दी गोली