पूर्णिया में कुख्यात अटिया की गिरफ्तारी की चर्चा:हत्या के 3 बड़े मामलों में है आरोपी, बुधवार को अरेस्ट हुए 2 लोगों से पूछताछ जारी

पूर्णियाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आशीष सिंह उर्फ अटिया की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
आशीष सिंह उर्फ अटिया की फाइल फोटो।

पूर्णिया में दिनभर कुख्याल आशीष सिंह उर्फ अटिया के गिरफ्तार होने की खबर सुर्खियों में रही। लेकिन देर शाम तक पुलिस ने गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं की है। हालांकि बुधवार की रात नवगछिया से अभिनंदन यादव व केशव झा नाम के दो लोगों को हिरासत में लिया है। दोनों से पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है।

पूर्णिया पुलिस के अनुसार हिरासत में लिए गए दोनों शातिर अपराधी हैं। साथ ही दोनों अटिया के काफी करीबी भी हैं। पुलिस को इन दोनों से अटिया के बारे में अहम सुराग मिलने की उम्मीद है।

हत्या के तीन बड़े मामलों का आरोपी है अटिया
सरसी का रहने वाला आशीष सिंह उर्फ अटिया देखने में भले ही कम उम्र व दुबला-पतला दिखता हो। लेकिन इसने कम उम्र में ही अपराध की दुनिया में अपना पैर जमा लिया है। वजह कि अटिया को कई सफेदपोशों का संरक्षण भी मिला हुआ है। उसपर जिले में तीन बड़े हत्याकांडों में शामिल होने का आरोप है।

अटिया पर कुख्यात बिट्टू सिंह के भाई बेनी सिंह की हत्या का आरोप है। बेनी सिंह की विधानसभा चुनाव के दिन ही सरसी में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। सरसी में ही डेढ़ महीना पहले पूर्व जिप सदस्य विश्वजीत सिंह उर्फ रिंटू सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसमें भी आशीष सिंह उर्फ अटिया ही आरोपी है। तीसरी घटना 15 दिन पहले की है। तब नीरज झा की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

आशीष सिंह उर्फ अटिया अबतक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। पूर्णिया एसपी ने अटिया की गिरफ्तारी के लिए पटना एसटीएफ को पत्र भी लिखा है। साथ ही 50 हजार का इनाम घोषित करने के लिए सरकार से मांग भी की है। लेकिन अबतक पुलिस के हाथ खाली हैं।