पूर्णिया कालेज में मतदान केंद्र के बाहर हंगामा:भीड़ नियंत्रण में पुलिस-पब्लिक के बीच भिड़ंत, आधा दर्जन पुलिसकर्मी जख्मी

पूर्णियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिसकर्मी कुछ समझ पाते, देखते ही देखते वहां भगदड़ मच गया। - Dainik Bhaskar
पुलिसकर्मी कुछ समझ पाते, देखते ही देखते वहां भगदड़ मच गया।

पूर्णिया कालेज में पंचायत चुनाव का मतगणना केंद्र बनाया गया है। आज यहां अमौर प्रखंड की मतगणना के दौरान अचानक हंगामा हो गया। जब पुलिस बल ने गेट से भीड़ हटाने और लोगों को समझाने-बुझाने की कोशिश की तो भीड़ से कुछ लोगों ने ईंट-पत्थर से हमला कर दिया।

पुलिसकर्मी कुछ समझ पाते, देखते ही देखते वहां भगदड़ मच गया। पहले तो लोगों ने पुलिस को खदेड़ना शुरू कर दिया। उसके बाद पुलिस बल ने जब लाठी बरसाई तो पूरे मैदान खाली हो गया। पत्थरबाजी में आधा दर्जन पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। चार को मेडिकल कॉलेज भेजा गया तो दो जख्मियों का मतगणना स्थल के शिविर में ही इलाज किया गया। घटना के बाद सदर एसडीओ व सदर डीएसपी ने पहुंचकर मोर्चा संभाला और लोगों को समझा-बुझाकर शांत कर दिया।

मतगणना स्थल के शिविर में जख्मियों का इलाज।
मतगणना स्थल के शिविर में जख्मियों का इलाज।

मोबाइल अंदर ले जाने को लेकर हुआ विवाद
पुलिसकर्मियों ने बताया कि मतगणना स्थल के अंदर उम्मीदवार या उनके प्रतिनिधि को मोबाइल लेकर जाने पर चुनाव आयोग ने प्रतिबंध लगाया है। इसके अलावा चुनाव आयोग द्वारा जारी प्रवेश पत्र के बिना अंदर जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है।

मतगणना स्थल के पूर्व गेट से उम्मीदवार व उनके प्रतिनिधि को अंदर प्रवेश करने की व्यवस्था है। लेकिन कुछ लोग बिना प्रवेश पत्र के ही साथ में मोबाइल लेकर अंदर प्रवेश कर गए। जब उन लोगों को ऐसा नहीं करने और गेट के बाहर चले जाने के लिए कहा गया, तो वह लोग सुरक्षा कर्मी व पदाधिकारियों के साथ धक्कामुक्की करने लगे। तभी बाहर से अचानक ईंट-पत्थर से हमला कर दिया गया।

खबरें और भी हैं...