पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भ्रष्टाचार:राजस्वकर्मी ने पारिवारिक सूची जांच के लिए मांगे 5 हजार, कहा-घर जाकर करेंगे तो लेंगे 50 हजार

रूपौली20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्व कर्मचारी के खिलाफ सीओ को आवेदन सौंपते पीड़ित । - Dainik Bhaskar
राजस्व कर्मचारी के खिलाफ सीओ को आवेदन सौंपते पीड़ित ।
  • बघवा गांव के शिक्षक दिलीप कुमार यादव की कुछ माह पहले हो गई थी मौत

सुशासन की सरकार में भ्रष्टाचार के जीरो टॉलरेंस की धज्जियां उड़ाते हुए राजस्व कर्मचारी ने बिना किसी भय के एक शिक्षक पुत्र से पारिवारिक सूची की जांच रिपोर्ट देने के बदले पांच हजार रुपये का नजराना मांगा है। जब पीड़ित ने घर जाकर जांच करने की बात कही तो राजस्वकर्मी ने कहा कि घर जाकर जांच करेंगे तो 50 हजार लेंगे। इसके बाद पीड़ित युवक ने राजस्व कर्मी के खिलाफ सीओ को आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की है। प्रखंड के बघवा गांव के शिक्षक दिलीप कुमार यादव की मौत कुछ माह पूर्व सेवाकाल के दौरान हो गई थी।उनकी मृत्यु के बाद विभाग के द्वारा पारिवारिक सूची की मांग की गई। इसके लिए मृत शिक्षक के पुत्र मिथुन कुमार ने लिखित आवेदन के साथ जरूरी कागजात संलग्न कर अंचल कार्यालय में 5 जुलाई को जमा करवाया था। मिथुन कुमार के आवेदन पर सीओ राजेश कुमार ने त्वरित कार्रवाई करते हुए उक्त आवेदन को जांच के लिए राजस्व कर्मचारी नारद मंडल को दे दिया।आवेदक मिथुन कुमार जैसे ही नारद मंडल से मिलने पहुंचा तो नारद मंडल ने पारिवारिक सूची को लेकर पूछताछ करनी शुरू कर दी है। आवेदक ने बताया कि उनके पिता की मृत्यु सेवाकाल में ही हो गई है। उसके बाद क्या था राजस्व कर्मचारी ने कहा-तब तो तुमको चार लाख रुपये और अनुकंपा पर नौकरी मिलेगी। इतना लाभ लोगे तो पांच हजार रुपये मुझे बतौर नजराना देना ही पड़ेगा।नहीं तो घर पर जाकर जांच करेंगे। जब आवेदक ने कहा कि घर पर ही जाकर जांच कर लिया जाए। इसके बाद तो राजस्व कर्मचारी ने कहा कि घर पर जाएंगे तो 50 हजार लेंगे।

आवेदक और राजस्व कर्मी में कहासुनी
पैसा मांगने की बात को लेकर अंचल परिसर में ही आवेदक और राजस्व कर्मचारी में कहासुनी होने लगी। अंचल परिसर में उपस्थित भीड़ दोनों को अलग कर मामला को शांत कराया। इसके बाद आवेदक मिथुन कुमार ने अंचलाधिकारी से मिलकर राजस्व कर्मचारी नारद मंडल के खिलाफ एक लिखित आवेदन सौंपा।
आवेदन मिला, जांच के बाद होगी कार्रवाई
सीओ राजेश कुमार ने बताया कि आवेदन मिला है। जांच के बाद उचित कार्रवाई की जायेगी। आरोपी राजस्व कर्मचारी नारद मंडल से फोन पर संपर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन मोबाइल बंद आया।

खबरें और भी हैं...