पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मारपीट:सदर विधायक के बॉडीगार्ड ने महादलित युवक के साथ की मारपीट, एससीएसटी थाने में दिया आवेदन

पूर्णिया19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एससीएसटी थाना में आवेदन देने पहुंची महादलित समुदाय की महिला। - Dainik Bhaskar
एससीएसटी थाना में आवेदन देने पहुंची महादलित समुदाय की महिला।
  • खेमका ने कहा- ऐसी कोई घटना नहीं हुई, सभी अपने लोग, उन्हें बोलने का अधिकार

सदर विधायक विजय खेमका के बॉडीगार्ड द्वारा महादलित युवक के साथ मारपीट का मामला सामने आया है। इस मामले में गुलाबबाग पुराना सिनेमा हॉल के महादलित टोला के पीड़ित युवक अनिल कुमार राम ने घटना के बाद एससीएसटी थाना में विधायक विजय खेमका व उसके बॉडीगार्ड पर जाति सूचक शब्द के साथ गाली गलौज व मारपीट करने का आवेदन दिया है।
पीड़ित अनिल ने बताया कि रविवार को विधायक विजय खेमका महादलित बस्ती में प्रधानमंत्री के मन की बात कार्यक्रम सुनाने आए थे। हमलोगों ने उनके सामने अपनी परेशानी रखी। उन्होंने कहा कि देखिए हमलोग किस हालत में रहते हैं। घर में पानी घुस जाता है। आखिर इस समस्या का कब निदान मिलेगा। विधायक के बॉडीगार्ड ने हमलोगों को हटाते हुए कहा कि अभी विधायक जी के पास समय नहीं है। हमलोगों ने कहा कि मुझे अपनी बात कहने तो दीजिए। इसी पर विधायक के बॉडीगार्ड ने मुझे दो-तीन थप्पड़ मार दिया। अनिल ने विधायक पर भी जातिसूचक शब्द शब्द व गाली देने का आरोप लगाया। थानाध्यक्ष वैद्यनाथ रजक ने बताया कि गुलाबबाग के महादलित लोगों का एक आवेदन मिला है। पुलिस जांच कर रही है।
ऐसी कोई बात ही नहीं हुई : इधर, विधायक विजय खेमका ने बताया कि ऐसी कोई बात ही नहीं हुई है। वे रविवार को प्रधानमंत्री के मन की बात सुनाने चंदन पासवान की अध्यक्षता में महादलित टोला गए थे। वहां लोगों के बीच मास्क व साबुन का वितरण कर कोरोना से बचाव के लिए उन्हें जागरूक किया। लोगों ने अपनी-अपनी समस्या भी रखी। मैंने सबों को आश्वासन भी दिया। इसके बाद भोगाकरियात के रजक टोला में मास्क व साबुन वितरण करने निकल गया। विधायक श्री खेमका ने कहा कि मेरे सामने मेरे बॉडीगार्ड ने किसी से भी कोई मारपीट नहीं की गई है। हम विधायक हैं, लोग मुझसे अपनी बात नहीं कहेंगे तो किससे कहेंगे। ये सब मेरे अपने लोग हैं।

खबरें और भी हैं...