पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वारदात:कटहल लाने की बात कह निकला किशोर मदरसा में मिली लाश, भाई बोला-हत्या हुई

पूर्णियाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मंझेली लौवाकुंड में बिलाप करते परिजन। - Dainik Bhaskar
मंझेली लौवाकुंड में बिलाप करते परिजन।
  • मंझेली मदरसा नुरुल होदा की घटना, लॉकडाउन के कारण बंद था मदरसा
  • चेहरा खून से लथपथ था और बगल में भी बिखरे पड़े थे खून के धब्बे, हाथ-पैर बेंच में बंधा और सिर पर गहरे जख्म के निशान

मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मंझेली स्थित मदरसा नुरुल होदा में शनिवार रात्रि उसी मदरसा के एक 14 वर्षीय नाबालिग लड़के की लाश डेस्क में फंदे से लटकी मिली। उसका घर मदरसा से कुछ दूरी पर था और वह वहां पढ़ने आता था। हालांकि अभी लॉकडाउन के कारण मदरसा बंद था। मृतक की पहचान महाराजपुर पंचायत के लौवा कुंड गांव निवासी स्व. खलील के बेटे मो. शोएबुर के रूप में हुई है। शोएबुर अपनी मां से कटहल लाने की बात कहकर घर से निकला था, जिसकी बाद में लाश मिली। उसका चेहरा खून से लथपथ था और बगल में भी खून के धब्बे बिखरे पड़े थे। उसका हाथ-पैर बेंच में बंधा हुआ था और सिर पर गहरे जख्म का निशान था। शव देखने से एेसा लग रहा था कि उसकी हत्या कर लटकाया गया है।    मृतक के भाई ने कहा कि उसकी हत्या की गई है, इसकी ठीक से जांच हाेनी चाहिए। मदरसा में छात्र की लाश मिलने की खबर सुनते ही लोगों की भीड़ लग गई। घटना की जानकारी मिलते ही मुफस्सिल थानाध्यक्ष घटनास्थल पर पहुंचे और शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। मामले में शाम में डीएसपी आनंद पांडेय जांच करने पहुंचे। उन्होंने बताया कि पुलिस सभी बिन्दुओं पर जांच कर रही है। जल्द ही अपराधी को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

शिक्षक आते हैं हाजिरी बनाकर चल जाते हैं
मदरसा के शिक्षक दिन में आते हैं और हाजिरी बनाकर चले जाते हैं। मृतक का बड़ा भाई मो. तसलीम ने बताया कि शनिवार दोपहर मैं खाना खाने के बाद मंझेली चौक स्थित अपनी दुकान चला गया। शाम में मां ने फोन पर शोएबुर के बारे में बताया कि वह पिछले दो घंटे से घर में नहीं है। भाई ने बताया कि इसके बाद मैं अपने चचेरे भाई व दोस्तों के साथ उसे ढूंढने लगा। आसपास कई घंटे ढूंढने के बाद भी उसका कहीं कोई अता-पता नहीं चल पाया। 
हत्या कर रस्सी से बांधकर शव को लटकाया
शोएबुर के भाई ने बताया कि उसे ढूंढते हुए मंझेली चौक की तरफ जा रहे थे कि एक युवक को उसकी तस्वीर दिखाने पर उसने बताया कि शोएबुर को मंझेली मदरसा के समीप कुछ घंटे पहले देखा था। फिर हम लोग मदरसा के अंदर जाकर ढूंढना शुरू किये। जब टॉर्च लेकर मदरसा के पीछे कटहल पेड़ के पास पहुंचे तो उसका चप्पल पेड़ के समीप फेंका मिला। आगे बढ़ने पर सीढ़ी के नीचे खून से लथपथ मेरे भाई का शव पड़ा मिला। उसका हाथ और पैर रस्सी से बंधा हुआ था और गर्दन को रस्सी से बांध कर डेस्क से लटका दिया गया था। शव को देख कर लग रहा था कि उनके सिर पर तेज प्रहार कर उसकी हत्या कर रस्सी से बांधकर लटका दिया है।

मृत नाबालिग।
मृत नाबालिग।

प्रथमदृष्टया यह हत्या का मामला लग रहा
शव को देखने के बाद प्रथमदृष्टया मामला हत्या का लगता है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। हालांकि परिजनों के द्वारा अभी तक लिखित आवेदन नहीं दिया गया है।
मदन कुमार, मुफस्सिल थानाध्यक्ष 
मदरसा बंद, शिक्षक काम कर लौट जाते हैं घर
लॉकडाउन के कारण मदरसा में पठन-पाठन बंद है। हाल में सरकार द्वारा जारी आदेश के बाद शिक्षक समय पर आकर काम करके घर लौट जाते हैं। यह घटना बहुत ही दुखद है।
मो. सउद, सेक्रेट्री, मदरसा नुरूल होदा

खबरें और भी हैं...