दुस्साहस:बस स्टैंड से रोती मिली दो नाबालिग बच्ची, कहा-ऑटो पर सवार 3 युवक आंख में पट्टी बांधकर ले जा रहे थे

पूर्णिया20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रूपौली की दोनों बच्ची पूर्णिया में किराए के मकान में रहकर करती थी पढ़ाई

दुर्गापूजा के पहले दिन बस स्टैंड से रोती दो नाबालिग बच्ची मिली। दोनों नाबालिग बच्ची रुपौली थाना क्षेत्र की रहने वाली है जो पूर्णिया के वीमार्ट के पीछे सुभाषनगर मोहल्ले में किराए के मकान में रहकर पढ़ाई करती है। दोनों नबालिग बच्ची सगी बहन है। दोनों बच्चियों ने पुलिस को बताया कि दिन के सढ़े बारह बजे वह स्कूल से जब अपने रूम पर आयी और वहां से दोनों बहन बिस्किट लाने दुकान जा रही थी। तभी दो युवक पीछे से उसके आंखों पर पट्टी बांध कर ऑटो में बिठा लिया। बच्ची ने बतायी की ऑटो पर तीन लोग सवार थे। दोनों बच्ची ने बताया कि जब ऑटो एक दुकान पर रुका और अपहर्ता कुछ सामान लेने उतरे तो वे भी हिम्मत कर चिल्लाते हुए ऑटो से उतर कर भाग गई। दोनों बच्ची ने बताया कि वहां कुछ लोग जमा हो गये। फिर उसे एक ऑटो वाले ने बस स्टैंड पर पहुंचाया। जहां से लोगों ने उनके पिता को फोन कर घटना की जानकारी दी। इधर घटना के बाद सहायक खजांचीहाट थाना पुलिस मामले को संदिग्ध मान रही है। सदर एसडीपीओ सुरेन्द्र कुमार सरोज ने बच्ची के द्वारा दिये जा रहे बयान को नकारते हुए कहा कि ऑटो से अगर कोई अपरहण करेगा तो वह भागते रहेगा ना की दुकान पर रुकर कुछ सामान आदि खरीदेगा।बच्ची अभिभावक के डर से ऐसा बोल रही है। इधर सहायक खजांचीहाट थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने अपहरण की घटना से साफ इंकार किया है। उन्होंने कहा कि पुलिस सीसीटीवी फूटेज आदि की जांच कर रही है। बच्ची के पिता ने बताया कि सहायक खजांचीहाट थाना पुलिस ने एक आवेदन में मुझसे बच्ची को सकुशल बरामद करने की बात लिखवाया है।

होमगार्ड को धक्का मारने के मामले में तीन युवकों को भेजा गया जेल

जानकीनगर | बाइक से होमगार्ड को धक्का मारने मामले में तीनों युवकों को जेल भेजा दिया गया है। जानकीनगर थाना के होमगार्ड जवान जय प्रकाश चौधरी को बुधवार दोपहर पूर्णिया-सहरसा एनएच 107 पर विनोवा ग्राम चौक के निकट वाहन जांच के दौरान मोटरसाइकिल पर सवार तीन व्यक्ति को रुकने का इशारा किया था, लेकिन बाइक सवार तीनों व्यक्ति के द्वारा मोटरसाइकिल ना रोककर होमगार्ड जवान जय प्रकाश चौधरी को धक्का मार दिया था। जिसमें जय प्रकाश चौधरी बुरी तरह से घायल हो गये थे। उसे तत्काल अनुमंडलीय अस्पताल बनमनखी में इलाज कराने के बाद पूर्णिया रेफर कर दिया गया था। जानकीनगर थाना अध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि बाइक सवार तीनों व्यक्ति रामपुर तिलक पंचायत के वार्ड नंबर 13 निवासी शिवनंदन यादव का पुत्र दिलराज कुमार, योगेंद्र यादव का पुत्र रूपेश कुमार, सुरेश शर्मा उर्फ मंटू शर्मा का पुत्र दीपक कुमार जो मुरलीगंज की तरफ से बाइक से आ रहा था।

खबरें और भी हैं...