पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हत्याकांड:पत्नी, सास और साले ने पीटकर बचकन की हत्या के बाद मलडीहा माइनर नहर में गड्ढा खोद गाड़ दी लाश

बीकोठीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ओरलाहा गांव से 14 जून से गायब युवक बचकन मंडल का शव मलडीहा माइनर नहर से पुलिस ने बरामद कर लिया है। मामले में पुलिस ने बचकन मंडल के साढू अजय पासवान और बोलेरो मालिक गौतम सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

हत्याकांड में शामिल मृतक की पत्नी रतन देवी उर्फ मैना देवी, भाई की सास, साला डोमी मंडल और विकास मंडल की गिरफ्तारी में छापेमारी कर रही है। रघुवंशनगर ओपी अध्यक्ष महादेव कामत ने बताया कि बचकन के भाई गणेशी मंडल ने रघुवंशनगर ओपी में आवेदन देकर भाई की पत्नी रतन देवी उर्फ मैना देवी, भाई की सास, साला डोमी मंडल और विकास मंडल और जयनगरा निवासी भाई के साढू अजय पासवान को नामजद आरोपित करते हुए मामला दर्ज करवाया गया था। जांच के दौरान डेडबॉडी का पता लगाने के लिए बोलेरो मालिक और चालक को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। पूछताछ के क्रम में गिरफ्तार ड्राइवर और चालक ने हत्या का राज खोलते हुए बताया कि 14 जून की रात दोनों पति पत्नी ने विवाद हुआ था। अजय पासवान से मिली जानकारी के बाद बड़हरा कोठी अंचलाधिकारी निरंजन कुमार मिश्र की उपस्थिति में रघुवंशनगर ओपी तथा बड़हरा कोठी थाना पुलिस द्वारा ग्रामीणों एवं परिजनों के सहयोग से नहर के पूर्वी किनारे से खोदकर लाश निकाला गया। ओपी अध्यक्ष महादेव कामत ने बताया कि लाश को देखने से मारपीट कर हत्या करना प्रतीत होता है। ठाड़ी ग्राम पंचायत के ठाड़ी गांव निवासी मृतक बचकन मंडल के भाई गणेशी मंडल ने बताया कि उनका भाई पिछले 10 साल से अपने ससुराल मलडीहा में ही रहता था।

भाई की पत्नी का आचरण ठीक नहीं रहने के कारण मेरा भाई विरोध करता था। जिस कारण से अक्सर दोनों पति-पत्नी के बीच लड़ाई झगड़ा होता रहता था। 14 जून के रात भी दोनों लोगों में झगड़ा हुआ था। इसके बाद मेरे भाई की पत्नी, उसकी सास और दोनों साले में पीट-पीटकर हत्या कर दी। बाद में ससुराल पक्ष के लोगों ने अपने आस पास के लोगों को भाई के बीमार पड़ जाने पर इलाज के लिए ले जाने का बहाना बनाते हुए लाश को बोलेरो से लेकर फरार हो गए। इसके बाद उन्होंने लाश छिपाने की नीयत से लाश को मलडीहा माइनर नहर में गड्ढा खोदकर दफना दिया था।

खबरें और भी हैं...