पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना से भय:कोरोना से मृत महिला को परिजनों ने ट्रंक के अंदर बंद कर दफनाया

राघोपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्रामीणों और रिश्तेदारों का सहयोग नहीं मिलने पर उठाया यह कदम

कोरोना के भय से लोग अपने परिजन के अंतिम संस्कार करने से पीछे भागने लगे हैं। मामला रामबिशनपुर पंचायत के वार्ड-10 से जुड़ा है। बुधवार को कोरोना संदिग्ध महिला की मौत के बाद घर के चंद सदस्यों को छोड़ समाज व रिश्तेदारों ने परिवार से मुंह मोड़ लिया। परिजनों ने किसी व्यक्ति का सहयोग नहीं मिलने पर शव को एक चदरे के बक्से में बंदकर जमीन में दफना दिया। जब लोगों को इसकी जानकारी मिली तो लोगों में दूसरी महामारी का भय सताने लगा। लोगों का कहना है कि शव को मिट्टी से नहीं ढकने पर शव का चदरा के बक्से में गलने के बाद निकलने वाली गैस से पूरे गांव में हैजा फैल सकता है। मृत महिला के बेटे ने बताया कि उसकी मां कई वर्षों बीमार चल रही थी। इस बीच उनको तेज बुखार व सर्दी हो गई थी। उन्हें शनिवार को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां डॉक्टरों ने बताया कि उनमें कोरोना के हल्के लक्षण हैं। इसे बाहर ले जाइए। उसके बाद अपनी मां को सुपौल के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन वहां कोरोना के भय के कारण उनका इलाज नहीं हो सका।

खबरें और भी हैं...