गीदड़ों का आतंक:रजौन में गीदड़ ने एक दर्जन लोगों को काटा, पांच जख्मी मायागंज हुए रेफर

रजौन25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रजौन प्रखंड क्षेत्र से गीदड़ काटने का लगातार हो रही घटनाएं, लोगों में दहशत

रजौन प्रखंड के बरौनी, मिर्जापुर, भदवा एवं तिलकपुर पंचायत के मुरादपुर सहित अन्य गांवों में गीदड़ ने आतंक मचा कर रख दिया है। जानकारी के अनुसार गीदड़ ने बरौनी गांव के शिबू दास के 16 वर्षीय पुत्र आशीष कुमार पदम बरौनी गांव के ही सकलदीप दास (60) तथा दुखहरण शर्मा का 65 वर्षीय ससुर शिवनंदन शर्मा व सन्नी कुमार को गीदड़ ने काटकर बुरी तरह से जख्मी कर दिया। सभी जख्मियों को रजौन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद डॉ. रश्मि कुमारी ने भागलपुर मायागंज रेफर कर दिया। सभी जख्मियों की स्थिति काफी नाजुक बताया जा रहा है। प्रखंड क्षेत्र से गीदड़ के काटने से जख्मी के आने का सिलसिला जारी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है गीदड़ों की झुंड ने बरौनी गांव के उत्तर स्थित मिर्जापुर गांव पहुंचकर 50 वर्षीय महिला सिंधु देवी, नवल कुमार एवं उत्तर पूरब दिशा पर अवस्थित मुरादपुर गांव जाकर जानकी देवी को भी जख्मी कर देने की खबर है। इसके बाद भदवा गांव में भी देर संध्या को गीदड़ ने काटकर बीना देवी को गंभीर रूप से लहूलुहान कर दिया है। जिनकी स्थिति काफी गंभीर बताई जा रही है, जिसको मायागंज रेफर किया गया है। गीदड़ों की आतंक को देखते हुए भय और दहशत से आतंकित बरौनी गांव के ग्रामीणों ने शनिवार की शाम करीब 5 बजे बीएलओ शिक्षक दीक्षित कुमार को गीदड़ के काटने से बचाते हुए सामूहिक प्रयास से एक गीदड़ को मार दिए जाने की खबर है। गीदड़ के आतंक से बरौनी सहित पास पड़ोस के गांव मिर्जापुर, मुरादपुर, सहित अन्य गांव में भय और दहशत का माहौल बना हुआ है। गीदड़ों के आतंक से भयभीत ग्राम वासियों ने वन विभाग एवं पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों से ऐसे खटकने जानवरों आम जनों को बचाने की मांग की है। बताया जा रहा है खटकाना गीदड़ कहीं से भटक कर आकर आतंक मचाते हुए व्यक्तियों को अपना शिकार बना रहा है।

चापाकल से जल निकासी को ले दो पक्षों में मारपीट

पंजवारा | थाना क्षेत्र के चंडीडीह गांव में चापाकल के पानी के जलनिकासी के विवाद में दो पक्षों में शनिवार को मारपीट की घटना हो गई। जिसमें महिला गुजरी देवी (80 वर्ष) गंभीर रूप से घायल गई। जिसको आनन-फानन में परिजनों ने हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर पंजवारा पहुंचाया। जहां घायल महिला का प्राथमिक उपचार किया गया। घटना को लेकर घायल महिला के पुत्र गैना लैया पिता स्व. मलहारी लैया ने पंजवारा थाना में अपने पड़ोसी गोल्डन लैया, मुन्ना लैया, नरेश लैया, उमया देवी एवं सोनिया देवी के विरूद्ध आवेदन देते हुए कार्रवाई करने को मांग की। इस पूरे मामले पर पंजवारा थानाध्यक्ष अनिल कुमार साव ने बताया कि घायल अवस्था में एक महिला चंडीडीह गांव से पहुंची थी। जिसका उपचार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पंजवारा में कराया गया।

खबरें और भी हैं...