पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:अवैध बालू खनन के मामले में 37 धंधेबाजों पर हुई प्राथमिकी

रजौनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एनजीटी (नेशनल ग्रीन ट्रिब्यून) के निर्देश पर तीन माह के लिए बिहार में बालू खनन पर पूर्णरूपेण प्रतिबंध है। बावजूद चोरी-छिपे माफिया धड़ल्ले से बालू का उठाव कर रहे है। जिसको लेकर बीते चार जुलाई को रजौन, धोरैया, बाराहाट थाने की पुलिस ने गुप्त सूचना पर डुमरिया, भवानीपुर, कैथा बालू घाटों पर छापेमारी कर सात अवैध बालू लदे ट्रैक्टर को जब्त किया था। लेकिन पुलिस को देखकर सभी चालक ट्रैक्टर छोड़कर फरार हो गया था। जिसको लेकर खान निरीक्षक के बयान पर बालू घाट पर सुरक्षा हेतु बनाए गए तटबंद को काटकर अवैध कर्ताओं द्वारा बालू का परिवहन करने को लेकर 37 बालू कारोबारियों के ऊपर प्राथमिकी दर्ज की गई है। नीरज यादव, पिंटू यादव, पिंटू यादव, मंटू यादव, शैलेश यादव, गुड्डू यादव, देवेन यादव, मंगल यादव, निलेश मंडल, शेखर मंडल, सोनू मंडल, आशुतोष मंडल, रंजीत शर्मा, संज्जा मंडल उर्फ संजय, मंगल मंडल, राघवेंद्र मंडल, दीपक यादव, विक्की यादव, जीतो मंडल, मनोज दास सुरेश दास, विपिन मंडल, दीपक यादव, मुकुंदी यादव, मुकेश कुमार कापरी, हरि किशोर कापरी, पंचा यादव, लवण यादव, फंटूश यादव, फुलचन राम, विकास यादव, पप्पू सिंह, राहुल यादव, प्रीतम यादव विपिन यादव, सर्धा यादव, बसंत यादव के ऊपर सरकारी राजस्व की चोरी करने के मामले में खान निरीक्षक के बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

खबरें और भी हैं...