दुस्साहस:एक लाख रुपए के लिए विवाहिता को पीटकर मार डाला, ससुर, दामाद सहित 4 पर केस दर्ज

रजौन5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नवादा थाना क्षेत्र के खरवा के ससुराल पक्ष के सभी लोग घटना के बाद से फरार

खरवा गांव से दहेज में एक लाख रुपए नहीं मिलने पर ससुराल वालों ने विवाहित की हत्या का मामला प्रकाश में आया है। दहेज के लिए विवाहिता को ससुराल वालों ने निर्दयता पूर्वक पीटा। जिसके चलते उपचार के क्रम में भागलपुर सदर अस्पताल में विवाहिता ने दम तोड़ दिया। जिसके बाद तिलकामांझी पुलिस के समक्ष मृत महिला के पिता ने फर्द बयान दिया। नवादा थाना को दिए आवेदन में भागलपुर इशाकचक निवासी पीड़ित पिता रामदेव तांती ने बताया है कि 21 वर्षीय पुत्री वंदना देवी की शादी 2020 में रजौन प्रखंड के नवादा थाना अंतर्गत खरवा गांव में धर्मदास उर्फ विकास मंडल से किया था। जिसमें उपहार के तौर पर 3 लाख नकद सहित अन्य सामग्री दिया था। शादी के कुछ माह बाद ही ससुराल वालों ने पुत्री को दहेज को लेकर बराबर प्रताड़ित करने लगा। जिसके बाद दामाद धर्मदास मंडल, ससुर जलधर मंडल, सास, भैसुर विनोद मंडल ने मिलकर पुत्री के साथ मारपीट करने लगा और एक लाख रुपए दहेज के तौर लाने को कहा। दामाद घर आकर 1 लाख रुपए बिजनेस करने के लिए मांगने आया तो हमने बोला की मेरे पास 22 हजार है, उसे दे देते हैं।

एक लाख रुपए के लिए बेटी को मारा
पुत्री ने 30 दिसंबर को मोबाइल से मुझे फोन करके बुलाया, तब हम अपने पुत्री के ससुराल पहुंचे तो देखे कि उसके साथ मारपीट कर जख्मी कर दिया है। जिसके बाद पुत्री को घर इशाकचक लाया। पुत्री की गंभीर स्थिति को देखते हुए 5 जनवरी की सुबह सदर अस्पताल भागलपुर में भर्ती कराया। जहां इलाज के क्रम में उसी दिन शाम में मौत हो गई। पिता रामदेव तांती ने रोते हुए कहने लगे कि एक लाख रुपए को लेकर मेरी पुत्री को ससुराल वालों ने पीटकर मार दिया। मृतका की मां ने कहा कि मेरी पुत्री ने किसी का क्या बिगाड़ा था ? जो मेरी मासूम जैसी बच्ची को पीट-पीटकर मार डाला। उक्त मामले में नवादा पुलिस एक भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। मृतका के पिता ने बताया कि मेरी पुत्री के हत्यारे अभी भी खुलेआम बाहर घूम रहे हैं। ससुराल पक्ष के लोग घर से फरार हैं।

खबरें और भी हैं...