पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुविधा:सहरसा में 5 हजार एमटी का बनेगा गोदाम 23 ट्रेड्स में सेंटर ऑफ एक्सेलेंस खुलेंगे

सहरसा23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
समीक्षा बैठक में शामिल प्रभारी मंत्री एवं अन्य मंत्री सहित सांसद व अधिकारी। - Dainik Bhaskar
समीक्षा बैठक में शामिल प्रभारी मंत्री एवं अन्य मंत्री सहित सांसद व अधिकारी।
  • विकास भवन के सभागार में मंत्री जीवेश ने समीक्षात्मक बैठक को संबोधित किया

आने वाले दिनों में 23 ट्रेड में सेंटर ऑफ एक्सेलेंस खुलेगा। साथ ही श्रमिक एवं स्टूडेंट के लिए परामर्श केंद्र भी खोले जाएंगे। साथ ही मेगा स्कील सेंटर बनाए जाने का प्रस्ताव है। मधेपुरा और सुपौल जिलों की ही तरह खाद्यान्न के भंडारण के लिए नए अधिक क्षमता का एसएफसी के अन्तर्गत 5000 एमटी क्षमता का गोदाम का निर्माण किया जाएगा। जिला के प्रभारी मंत्री सह श्रम संसाधन एवं सूचना प्रोवैधिकी विभाग मंत्री जीवेश कुमार बुधवार को विकास भवन के सभागार में समीक्षात्मक बैठक को संबोधित कर रहे थे। उनके साथ राज्य के कला संस्कृति और खेल मंत्री आलोक रंजन, सांसद दिनेश चन्द्र यादव, राज्यसभा सांसद मनोज झा, महिषी के जदयू विधायक गुंजेश्वर साह, जिलाधिकारी कौशल कुमार सहित अन्य सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे। सहरसा के प्रभारी मंत्री बनने के बाद पहलीबार विभागों की समीक्षा के दौरान मंत्री जीवेश कुमार ने कहा कि सहरसा जिलान्तर्गत पथ निर्माण विभाग की सभी सड़कें ओपीएमआरएल के तहत है। इसके अन्तर्गत सड़कों का बेहतर रख-रखाव करते हुए गड्‌ढा मुक्त सड़क के रूप में इसे मेंटेन करें। संबंधित विभाग के अभियंता इस दिशा में संज्ञान लेते हुए संवेदक पर नजर रखते हुए कार्य में कोताही नहीं हो, इसका पूरा ध्यान रखें। बिहार सरकार के श्रम संसाधन मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री ने कहा कि आपदा प्रबंधन से जुड़े पदाधिकारी एवं कर्मी बाढ़ को लेकर पूरी तरह सावधान रहंे। तटबंध में कटाव के दृष्टिकोण से जहां-जहां संवेदनशील एवं अति संवेदनशील स्थल हैं वहां पदाधिकारी एवं कर्मी युद्ध की स्थिति में तैयार रहें। प्रभारी मंत्री ने कहा कि कोविड की तीसरी संभावित लहर को रोकने में टीकाकरण सबसे महत्वपूर्ण एवं कारगर उपाय है। उन्होंने राजनीतिक दलों के प्रतिनिधिगण से आग्रह किया कि अपने स्तर से टीकाकरण के लिए लोगों को जागरूक करते हुए अपनी जिम्मेवारी निभाएं।

सेंटर ऑफ एक्सेलेंस के तहत युवा होंगे प्रशिक्षित
जिले में युवाओं के कौशल विकास हेतु टाटा टेक कंपनी के सहयोग एक संस्थान का निर्माण होगा। जिसमें 23 ट्रेड यानी विधा में युवाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा। योजना के तहत संस्थान युवाओं को तकनीकी दक्षता प्रदान करेगी।

क्रियान्वित नाला निर्माण की गुणवत्ता जांच व ग्रामीण सड़कों में सुधार की है आवश्यकता
सांसद दिनेश चन्द्र यादव ने कहा कि हर घर नल का जल निश्चय योजना एवं नगर परिषद क्षेत्र में बुडको द्वारा क्रियान्वित किए जा रहे नाला निर्माण कार्य का समय-समय पर गुणवत्ता की जांच कराई जाए। कला संस्कृति एवं युवा विभाग मंत्री आलोक रंजन ने कहा कि ग्रामीण कार्य विभाग की सड़कें भी मेंटेनेंस के दायरे में है लेकिन ग्रामीण सड़कों में सुधार की जरूरत है।

नाव, मोटर वोट, गोताखोर, लाइफ जैकेट आदि की व्यवस्था पूरी
डीएम कौशल कुमार ने प्रभारी मंत्री को जिला प्रशासन द्वारा बाढ़ पूर्व तैयारियों के संदर्भ में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि विगत तीन माह में जिले में समान्य से अधिक बारिश हुई है। संभावित बाढ़ प्रभावित क्षेत्र एवं संकटग्रस्त व्यक्ति समूहों की पहचान कर ली गई है। संसाधन मानचित्रण के अंतर्गत नाव, मोटर वोट, गोताखोर, लाइफ जैकेट, महाजाल, शरण स्थल आदि की तैयारियां कर ली गई है। सहरसा जिलान्तर्गत चार प्रमंडल के अधीन 65 किमी तटबंध का भाग है जिसमें 27 संवेदनशील एवं 1 अति संवेदनशील स्थल चिह्नित किया गया है। प्रभारी मंत्री ने सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर सांप काटने की दवा की उपलब्धता सुनिश्चत करने का निर्देश दिया। बैठक में पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह, अपर समाहर्ता विनय कुमार, उप विकास आयुक्त राजेश कुमार, विभिन्न तकनीकी एवं गैर तकनीकी विभागों के जिला स्तरीय पदाधिकारी के अतिरिक्त विभिन्न राजनीतिक दलों के जिलाध्यक्ष व प्रतिनिधि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...