लापरवाही:सड़क निर्माण में अनियमितता मिलने के एक साल बाद भी नहीं हुई कार्रवाई

नवहट्टा9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मार्च 2020 में डीएम ने दिए थे जांच के आदेश

मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना में प्रखंड क्षेत्र के वार्ड क्रियान्वयन समिति के द्वारा इस कदर मनमानी और अनियमितता बरती गई है की सड़क के बने कुछ माह बीतने के बाद ही सड़क टूटकर जर्जर हो गई हैं इस बाबत ग्रामीणों जीवन कुमार झा ने जिला पदाधिकारी को आवेदन देकर जांच की मांग की है। मालूम हो कि जीवन कुमार झा के द्वारा पिछले वर्ष मार्च महीने में हाटी पंचायत के वार्ड नंबर 16 में वार्ड क्रियान्वयन समिति के द्वारा सात निश्चय योजना के तहत निर्मित सड़क की जिला पदाधिकारी को आवेदन देकर जांच की मांग की थी जिला पदाधिकारी ने जांच का जिम्मा तत्कालीन कृषि पदाधिकारी मनोज कुमार को पिछले वर्ष मार्च 2020 में सौंपी थी। जांच में कृषि पदाधिकारी को सड़क निर्माण में अनियमितता देखने को भी मिली। लेकिन अब तक वार्ड क्रियान्वयन समिति पर न कार्रवाई हुई न सड़क दुरुस्त हो पाई। मालूम हो कि हाटी पंचायत के वार्ड नंबर 16 में निर्मित सात निश्चय योजना से लगभग 14 लाख की राशि से पीसीसी सड़क का निर्माण हुआ। निर्माण के कुछ माह बाद ही सड़क टूट कर बिखर गई। ग्रामीण जीवन कुमार झा ने जिला पदाधिकारी को आवेदन देकर सात निश्चय योजना से निर्मित सड़क की जांच की मांग की है ।

खबरें और भी हैं...