पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आज खरना के बाद शुरू होगा पर्व का निर्जला उपवास:नगर परिषद के 30 जलाशयों में से 28 पर अर्घ्य की तैयारी, गहरे पानी में हुई बैरिकेडिंग

सहरसा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नहाय खाय के साथ चार दिवसीय महापर्व छठ की हुई शुरुआत, शुक्रवार को पहला अर्घ्य
  • अपील : लोक आस्था के पर्व में कोरोना संक्रमण को ध्यान में रख अपनी और परिजनों का रखें ख्याल

नहाय खाय के साथ मंगलवार को चार दिवसीय लोक अस्था का महापर्व छठ शुरू हो गया। छठ व्रतियों ने नहाय खाय के दिन शुद्धि करण के बाद भोजन में कद्दू की सब्जी का सेवन किया।

इधर प्रशासन द्वारा महापर्व को लेकर लगभग सभी जलाशयों की साफ-सफाई कर दी गई है। अधिक पानी वाले घाटों पर बैरिकेडिंग के साथ-साथ सुरक्षा के प्रबंध किए जा रहे हैं। व्रतियों के भोजन में कद्दू की सब्जी अनिवार्य रूप से शामिल था। नहाय खाय के बाद व्रतियों ने पूजन हेतु पकवान के लिए गेहूं की सफाई कर सुखाया। अधिकांश व्रती खुद से खरना का प्रसाद के लिए आटा तैयार करतीं हैं। व्रती गुरुवार दिन भर उपवास में रहकर रात में खरना करेगी। व्रती शुक्रवार को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्ध्य दिया जाएगा।
न्यू कॉलोनी एवं सुपर बाजार पोखर पर तैयारी नहीं
नगर परिषद क्षेत्र में 30 जलाशय है। जिसमें न्यू कॉलोनी एवं सुपर बाजार पोखर में छठ पूजा की तैयारी इस बार प्रशासनिक स्तर पर नहीं की गई है। बाकी 28 जलाशयों के साफ-सफाई का कार्य पूर्ण हो चुका है। शहर के मत्स्यगंधा जलाशय में उत्तरी तथा दक्षिणी किनारे व्रतियों एवं अन्य को गहरे पानी में जाने से रोकने के लिए बांस से बैरिकेडिंग कर दी गई है। कायस्थ टोला स्थित बहेलवा पोखर, सहरसा बस्ती पोखर, जायसवाल पोखर, मसोमात पोखर, गांधी पथ स्थित नंदन पाेखर, आरएम कॉलेज परिसर स्थित पोखर में साफ-सफाई का कार्य पूरा हो चुका है। बहेलवा पोखर में ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव भी कर दिया गया है।

डीएम व एसपी के साथ विधायक ने भी घाटों का किया निरीक्षण, दिए निर्देश
महापर्व छठ के सफल आयोजन को लेकर नव निर्वाचित विधायक आलोक रंजन ने डीएम कौशल कुमार, एसपी राकेश कुमार, सदर एसडीओ शंभू नाथ झा, नगर परिषद के चेयरमेन रेणु सिन्हा, नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी प्रभात रंजन के साथ शहर के शंकर चौक स्थित पोखर, बहेलवा पोखर, बायपास शर्मा टोला पोखर, सहरसा बस्ती पोखर का निरीक्षण किया।

विधि-व्यवस्था को तीन चलंत दस्ता बने
सदर थाना क्षेत्र में विधि व्यवस्था नियंत्रण हेतु 3 चलंत दस्ता बनया गया है जो 20 नवंबर को पूर्वाह्न 10 बजे से रात के 9 बजे तक तथा 21 नवंबर को 9 बजे सुबह तक भ्रमणशील रहेंगे।

जिले में खतरनाक घाटों की प्रशासन ने जारी की सूची
प्रशासन ने खतरनाक घाटों की सूची जारी की। महिषी के कोसी नदी के किनारे महपुरा घाट, सरौनी घाट तथा मैना महादलित घाट एवं पिपरा नदी के किनारे लक्ष्मीपुर घाट खतरनाक। सौर बाजार के सूहथ पंडिजी घाट, सितलपट्‌टी घाट, बेलदारी घाट, भेलवा जिवछपुर घाट, गौर घाट तथा दाहु भरणा घाट खतरनाक। कनरिया के बेलवड़ा छठ घाट खतरनाक। बसनही के सोने छठ घाट, बिजलिया घाट, झिटकिया पूल घाट एवं तहुआ मुसहरी घाट खतरनाक। सोनवर्षा राज में जेम्हरा घाट, लगमा घाट, डुमरा घाट, पदमपुर घाट, माेहनपुर घाट, मैनापुल घाट, मनाेरी पुल घाट,सोहा छठ घाट खतरनाक। सलखुआ में सलखुआ घाट, सितुआहा घाट, बहुरवा घाट, गोसपुर घाट तथा मुबारक पुर, पतरघट में शीतलपट्टी नदी घाट, विशनपुर नदी घाट, कहरा बाबाजी कुटि पोखर एवं पीपरा नदी घाट, बनमा ईटहरी में बहुअरवा पूर्वी घाट, बहुरवा पश्चिमी घाट, सुगमा पुल घाट, परसाहा घाट खतरनाक।

पानी में डूबकी लगाने की नहीं दी गई अनुमति
पानी में डूबकी लगाने की अनुमति नहीं दी गई है। घाट के आस-पास खाद्य पदार्थों का स्टॉल लगाने की अनुमति नहीं दी गई है। साथ ही किसी प्रकार के सामुदायिक भोज, प्रसाद या भोग वितरण की अनुमति नहीं दी गई है। प्रशासन ने 60 वर्ष पार कर चुके व्यक्ति एवं 10 वर्ष से छोटे बच्चे के साथ-साथ बुखार एवं अन्य बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति को छठ घाट पर नहीं जाने की सलाह दी है। किसी प्रकार के मेला,जागरण एवं अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी गई है।

विधि-विधान से छठ के लिए जुटीं महिलाएं
सोनबर्षाराज| छठव्रती पूरे विधि विधान से अनुष्ठान में जुट गईं। खरना से ही छठव्रतियों का 36 घंटों का निर्जला उपवास शुरू होगा। छठव्रती खरना पूजा उपरांत प्रसाद ग्रहण कर अगले 36 घंटों का निर्जला उपवास रख शुक्रवार को अस्तांचल व शनिवार को उगते सूर्य को अर्घ्य दे अन्नजल ग्रहण करेंगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ महत्वपूर्ण नए संपर्क स्थापित होंगे जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे। अपने भविष्य संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने का उचित समय है। कोई शुभ कार्य भी संपन्न होगा। इस समय आपको अपनी काबिलियत प्रदर्...

और पढ़ें