पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध-प्रदर्शन:बढ़ती महंगाई के लिए केंद्र व राज्य सरकार जिम्मेदार, जुलूस निकालकर किया जागरूक

सहरसा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस ने किया प्रदर्शन, सौंपा ज्ञापन

कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को महंगाई, बेरोजगारी एवं सरकारी भ्रष्टाचार के खिलाफ शहरी क्षेत्र में विरोध-प्रदर्शन करते हुए डीएम के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपा। जिलाध्यक्ष विद्यानंद मिश्र के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने तिवारी टोला चौक (राजीव चौक) से विरोध प्रदर्शन जुलूस निकाल कर केंद्र और राज्य सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी की।

बढ़ती महंगाई एवं बेरोजगारी को लेकर जन जागरण अभियान के तहत कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शहरी क्षेत्र में विरोध का आयोजन करते हुए समाहरणालय गेट पहुंचे। हाथों में झंडा एवं बैनर लेकर पेट्रोल, डीजल सहित अन्य आवश्यक वस्तुओं की मूल्यों में हो रही लगातार वृद्धि जमकर नारेबाजी की एवं केंद्र सरकार के साथ-साथ राज्य सरकार को बढती महंगाई एवं बेरोजगारी के लिए जिम्मेवार कहा। जुलूस में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल थी। जुलूस पूरब बाजार, शंकर चौक होते हुए कपड़ा पट्टी ,महावीर चौक, दहलान चौक, डीबीरोड, वीर कुंवर सिंह चौक से समाहरणालय तक पहुंचा। समाहरणालय गेट पर प्रदर्शन करने के बाद पार्टी सदस्यों का एक शिष्टमंडल ने जिला पदाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन सौंपा, जिसमें डीजल, पेट्रोल सहित सभी उपभोक्ता वस्तुओं की कीमतों को 2013-14 के स्तर पर लाने का मुख्य रूप से मांग की गयी। साथ ही इन 7 वर्षों में जिन लोगों की नौकरी छूटी एवं बेरोजगार हुए हैं उन्हें जीवन यापन योग्य भत्ता देने की भी मांग की गई।

इसके साथ ही गरीबी रेखा से नीचे बीपीएल सूची के लोगों को दिसंबर माह तक 5 किलो मुफ्त अनाज के साथ साथ दाल, सरसों का तेल, गैस सिलेंडर और साढ़े सात हजार प्रति परिवार प्रति वर्ष देने का भी मांग की गयी। जिलाध्यक्ष विद्यानंद मिश्र ने कहा कि नोटबंदी और गलत तरीके से लागू की गई जीएसटी ने भारतीय अर्थव्यवस्था को गर्त में गिरा दिया है। मौके पर केसर सिंह, रामसागर पांडेय, मो नईम उद्दीन, बद्री प्रसाद यादव, विमलकांत झा, चमक लाल यादव, साबिर हुसैन, ग़यासुद्दीन खाँ, रामशरण सहित अन्य मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...