समीक्षा बैठक:शिथिलता पर महिषी बीएचएम और बीसीएम से स्पष्टीकरण

सहरसा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
टीकाकरण कार्य को लेकर समीक्षा बैठक करते डीएम। - Dainik Bhaskar
टीकाकरण कार्य को लेकर समीक्षा बैठक करते डीएम।

टीकाकरण कार्य में शिथिलता बरतने के आरोप में महिषी प्रखंड के बीएचएम एवं बीसीएम पर गाज गिरी है। कार्य में शिथिलता बरतने के आरोप में बीएचएम एवं बीसीएम से स्पष्टीकरण पूछने एवं उनके वेतन अवरुद्ध करने का आदेश डीएम कौशल कुमार ने दिया है। गुरुवार को विकास भवन सभागार में टीकाकरण अभियान के तहत प्रखंडवार समीक्षा में महिषी, नौहट्टा, सलखुआ प्रखंड में जिले के औसत से कम टीकाकरण आच्छादन पर नाराजगी व्यक्त करते हुए डीएम ने संबंधित प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, बीएचएम एवं बीसीएम से जानना चाहा कि पर्याप्त वैक्सीन की उपलब्धता एवं संसाधन के बाद भी उपलब्धि का प्रतिशत अपेक्षाकृत कम क्यों है? 8 एवं 9 अक्टूबर को कोविड टीकाकरण के विशेष अभियान में पोलियो सुपरवाइजर की सहभागिता के मद्देनजर जिला टास्क फोर्स की बैठक में सिविल सर्जन, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, बीएचएम, बीसीएम, डीपीएम एवं स्वास्थ्य विभाग के अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। बैठक में टीकाकरण अभियान के अंतर्गत महिषी, नौहट्टा एवं सलखुआ प्रखंड में कोविड टीकाकरण का बढ़ाने के लिए अतिरिक्त टीकाकरण टीम की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया गया। शहरी क्षेत्र, कहरा एवं सत्तरकटैया प्रखंड अन्तर्गत जहां कोविड टीकाकरण का आच्छादन बेहतर है वहां से कुछ टीकाकरण दल को महिषी, सलखुआ एवं नौहट्टा में प्रतिनियुक्त करने का निर्देश दिया गया। इस संबंध में जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, संबंधित महिषी, नौहट्टा तथा सलखुआ के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, बीएचएम, बीसीएम माइक्रोप्लान तैयार करने को कहा गया। जिलाधिकारी ने कहा कि तटबंध के अंदर प्रतिनियुक्त टीकाकरण दल 7 अक्टूबर की संध्या में जाकर वहां कैंप करेंगें तथा 8 एवं 9 अक्टूबर को विशेष टीकाकरण अवधि में उक्त पंचायतों में हीं रूककर अधिक से अधिक व्यक्तियों को कोविड टीकाकरण से आच्छादित करेंगे। तटबंध के अंदर टीकाकरण दल के आवागमन के लिए संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी को पर्याप्त संख्या में नावों की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया।

खबरें और भी हैं...