कार्यक्रम:‘महर्षि मेंहीं दास महराज के शरण में आकर ही मिल सकती है मुक्ति’

सौरबाजारएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंच पर सतसंग करते संत महात्मा व मौजूद अनुयायी। - Dainik Bhaskar
मंच पर सतसंग करते संत महात्मा व मौजूद अनुयायी।

प्रखंड क्षेत्र के चंन्दौर पूर्वी पंचायत, स्थित महर्षि मेहीं हृदय धाम संत शाही नगर के 13 वें स्थापना दिवस पर 15 दिवसीय पाक्षिक ध्यान साधना शिविर एवं दो दिनों का विशेष सत्यसंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। पक्ष ध्यान साधना शिविर के 12वें दिन मंगलवार को लोगों को संबोधित करते स्वामी अनुभावानंद महराज ने कहा कि मनुष्य को जीवन में गुरु के बिना कभी मुक्ति नहीं मिल सकती। इसके लिए महर्षि मेहीं दास महाराज के शरण में आकर ही मुक्ति का ज्ञान प्राप्त करना चाहिए। स्वामी ज्ञानी बाबा ने गुरु भजन संध्या आरती के माध्यम से सत्संग में भाग ले रहे अनुयायियों व संत प्रेमियों के बीच गुरु महाराज के जयकारा लगाया। मालूम हो कि महर्षि मेहीं हृदय धाम संत शाही नगर के स्थापना दिवस के मौके पर-3 दिसंबर से कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। 18 व 19 दिसंबर को दो दिवसीय विशेष सत्संग कार्यक्रम होगा। जिसमें मुख्य रुप मनियारपुर केन्द्रीय आश्रम के स्वामी चतुरानन्द जी महाराज सहित अन्य संत महात्माओं का पदार्पण होगा।

खबरें और भी हैं...