सहरसा में जमीन विवाद में फायरिंग, युवक की मौत:गुस्साए लोगों ने गाड़ियों में लगाई आग; 3 थानों की पुलिस ने भीड़ को खदेड़ा

सहरसा7 महीने पहले

सहरसा के ऊछाही नगर में दो पक्षों के बीच जमीन विवाद में गोली लगने से एक युवक की मौत हो गई। रविवार की शाम युवक की मौत के बाद आक्रोशित लोगों ने जमकर तोड़फोड़ की। आगजनी भी की। दो बाइक समेत एक गाड़ी को भी आग के हवाले कर दिया। हिंसक भीड़ के बीच से पुलिस ने किसी तरह तीन महिला सहित पांच लोगों को बाहर निकालकर जान बचाई।

हंगामा कर रहे लोगों ने लगाई आग।
हंगामा कर रहे लोगों ने लगाई आग।

जमीन विवाद का मामला
भवेश पासवान और छोटू पासवान के बीच जमीन को लेकर पूर्व से विवाद चल रहा है। रविवार को भवेश ने पुलिस की मदद लेकर विवादित जमीन पर काम शुरू किया तो छोटू पासवान ने उसे रोका। लेकिन, भवेश को पुलिस का संरक्षण देखकर छोटू पासवान ने स्थानीय और अन्य मोहल्ले के युवकों की भीड़ के दम पर काम रोकना चाहा। इस दौरान दोनों और से मारपीट और गोलीबारी हुई। गोली लगने से मौके पर ही बटराहा मोहल्ले से आए युवक छोटू यादव की मौत हो गई।

पुलिस ने बचाई जान
साथी की मौत से आक्रोशित युवकों ने पुलिस पर दो लाख रुपए लेकर भवेश की मदद करने का आरोप लगाते हुए आगजनी और तोड़फोड़ शुरू कर दिया। हिंसक हो चुकी भीड़ एक जीप, दो बाइक, चार साइकिल, कंप्यूटर, फर्नीचर को फूंक दिया। साथ ही भवेश के घर में भी तोड़फोड़ की।

इधर भीड़ भवेश के घर में ग्राउंड फ्लोर पर तोड़फोड़ कर रही थी, वहीं पहली मंजिल पर छिपे हुए उसके परिवार की तीन महिला और दो पुरुष अपनी जान बचाने की कोशिश कर रहे थे। भीड़ इन लोगों को भी मारने पर उतारू थी। वहां मौजूद पुलिस ने परिवार को घर से सुरक्षित बाहर निकालकर जान बचाई।

मोहल्ले में तनाव
घटनास्थल पर फायर ब्रिगेड की टीम को भी बुला लिया गया है। एसडीपीओ संतोष कुमार तीन थानों की पुलिस के साथ पहुंचे हैं। लोगों की भीड़ को हटाया गया है। मोहल्ले में अभी भी पुलिस कैंप कर रही है। मोहल्ले में अभी भी तनाव की स्थिति बनी हुई है।