पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विमर्श:मैथिलीक संत साहित्य विषय पर राष्ट्रीय संगोष्ठी 23 और 24 सितंबर को होगी, तैयारियों पर हुई चर्चा

सहरसा5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
संगोष्ठी को लेकर बैठक करते कॉलेज कर्मी। - Dainik Bhaskar
संगोष्ठी को लेकर बैठक करते कॉलेज कर्मी।
  • संगोष्ठी आयोजन को लेकर आरएम कॉलेज में हुई बैठक, विभिन्न समितियों का किया गया गठन

स्थानीय आरएम कॉलेज के मैथिली विभाग के तत्वावधान में साहित्य अकादमी नई दिल्ली भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के सहयोग से संत परमहंस लक्ष्मीनाथ गोसांई आ मैथिलीक संत साहित्य विषय पर 23 एवं 24 सितंबर को दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी एवं कार्यशाला का आयोजन होगा।राष्ट्रीय संगोष्ठी की सफलता को लेकर मंगलवार को प्राचार्य प्रो. (डॉ.) अरूण कुमार खां की अध्यक्षता में कॉलेज कर्मियों की बैठक आयोजित हुई। बैठक में संगोष्ठी-सह कार्यशाला के सफल आयोजन के लिए विभिन्न समितियों का गठन किया गया। बैठक में उपस्थित सभी शिक्षकों ने आगामी कार्यक्रम को लेकर अपनी शुभकामनाएं दी। साथ ही हिन्दी दिवस के अवसर पर हिंदी की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए सभी शिक्षकों ने अपने- अपने विचार प्रस्तुत किए। बैठक में प्रो.अमरनाथ चौधरी, डॉ. सुमन कुमार झा, डॉ. ललित नारायण मिश्र, डॉ.राम चैतन्य धीरज, अरविंद मिश्र नीरज, डॉ.किशोर नाथ झा, डॉ.मोहिनी मोहन खां, डॉ. शैलेश्वर प्रसाद, डॉ. राजेन्द्र झा, डॉ.विनोद मोहन जायसवाल, डॉ. इन्द्रकांत झा, डॉ. रेणु कुमारी, डॉ.आबिद उस्मानी, डॉ. शुभ्रा पांडेय, डॉ. सिंधु कुमारी, डॉ. प्रतिष्ठा कुमारी, डॉ. दीप्ति कुमारी, डॉ. बीना कुमारी मिश्रा, डॉ. डेजी कुमारी, डॉ. बिलो राम, आलोक कुमार, ललन कुमार, सुमित सहित अन्य मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...