पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दादागिरी:स्कूल की जमीन पर पूर्व मुखिया का कब्जा, लीज पर देने का बना रहे दबाव

सहरसा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्लस टू शंकर उच्च विद्यालय की 136 में 129 एकड़ जमीन गायब
  • पूर्व मुखिया ने एससी-एसटी समुदाय के लोगों के साथ मिल जमीन पर कर रखा है कब्जा

(नारायण ठाकुर विजय)
प्रखंड अंतर्गत औराही पंचायत के औराही गांव स्थित प्लस टू शंकर उच्च विद्यालय औराही गोबिंदपुर की जमीन पर मुखिया और उनके पति ने कब्जा कर लिया है। मुखिया पति और खुद मुखिया रह चुकेकंताल ऋषिदेव ने कुछ ग्रामीणों ने स्कूल की जमीन पर घर बना लिया है। मामले के खुलासा तब हुआ जब विद्यालय के प्राचार्य ने सीओ कार्यालय में विद्यालय जमीन संबंधी कागजात उपलब्ध कराए।

विद्यालय प्रधान महानंद विश्वास ने बताया कि विद्यालय के पास 136 एकड़ जमीन पर लेकिन उसके कब्जे में 7 एकड़ ही जमीन है और बाकी की 129 एकड़ जमीन पर ग्रामीणों ने अतिक्रमण कर रखा है। जिसमें 75 एकड़ जमीन मुगलिया पुरंदहा में है। 46 एकड़ जमीन औराही मौजा में है। 15 एकड़ जमीन का ह्रास हो चुका है।

विद्यालय द्वारा 2015 तक सभी जमीन का लगान रसीद भी कटाया जा चुका है। प्रधानाध्यापक ने बताया कि औराही मौजा के सारे जमीन का 2017 तक का लगान रसीद कटाया जा चुका है। इधर, अंचलकार्यालय और शिक्षा विभाग के उदासीन रवैये के बाद से जिले भर के स्कूली जमीन की हालत का पता लगाने की मांग लोगों द्वारा उठने लगी है।

जमीन के अतिक्रमण होने के बाद विद्यालय के कब्जे में मात्र सात एकड़ जमीन रह गई है

पूर्व मुखिया ने जमीन लीज पर देने का रखा प्रस्ताव

विद्यालय प्रधान द्वारा सीओ कार्यालय में जमीन अतिक्रमण संबंध शिकायत किए जाने के बाद पंचायत के पूर्व मुखिया कंतलाल ऋषि देव ने सीओ के समक्ष कब्जा की हुई स्कूल की जमीन को लीज पर देने का प्रस्ताव रखा है। पूर्व मुखिया की दलील है कि स्कूल के एक बड़े भू-भाग पर अतिक्रमण है और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों ने कब्जा कर लिया है। ऐसे में अंचल प्रशासन अतिक्रमित जमीन को लीज पर दे तो लोगों का घर भी नहीं टूटेगा और विद्यालय को राजस्व की भी प्राप्ति होगी। विद्यालय प्रधान ने साल 2017 तक जमीन की रसीद कटा कार्यालय में सौंपा

जमीन खाली कराना फिलहाल संभव नहीं
अंचलाधिकारी ने बताया कि विद्यालय की जमीन बीकोठी के साथ-साथ धमदाहा अनुमंडल के गई गांवों में फैली हुई है। इसमें 75 एकड़ जमीन धमदाहा अनुमंडल के मुगलिया पुरंदहा में और 46 एकड़ जमीन बड़हरा कोठी के औराही मौजा में है। वहीं फिलहाल चुनाव का समय है। ऐसे में विद्यालय की जमीन को अभी खाली करा पाना संभव नहीं है। अब जो भी कार्रवाई की जाएगी वह

स्कूल को प्राप्त नहीं होता राजस्व
स्कूल की जमीन पर 30 वर्षों से भी अधिक समय से अतिक्रमण है। दस्तावेज के अनुसार स्कूल को आजतक उसकी भूमि से राजस्व की प्राप्ति नहीं हुई है। ऐसे में अगर सरकार जमीन को लीज पर दे देती है तो विद्यालय को राजस्व की प्राप्ति होगी। इससे स्कूली की सुविधाओं में भी इजाफा होगा।
महानंद विश्वास, प्रधानाध्यापक, प्लस टू शंकर उच्च विद्यालय औराही, गोविंदपुर

खबरें और भी हैं...