पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

परेशानी:एक माह पूर्व गिराए ईंट से मरीज हो रहे चोटिल

सहरसा18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल के आउटडोर तक जाने वाली सड़क पर ईंट के टुकड़े। - Dainik Bhaskar
अस्पताल के आउटडोर तक जाने वाली सड़क पर ईंट के टुकड़े।
  • सदर अस्पताल प्रशासन ने ईंट जलजमाव से मुक्ति के लिए डलवाया था

एक तरफ लोग बीमार होकर सदर अस्पताल इलाज कराने पहुंचते हैं। लेकिन इन दिनों सदर अस्पताल में इलाज कराने के लिए पहुंचने वाले लोग सदर अस्पताल प्रशासन की लापरवाही से रोज चोटिल हो रहे हैं। यह लापरवाही सदर अस्पताल प्रशासन द्वारा आकस्मिक कक्ष से आउटडोर के बीच अनियंत्रित और कई शक्लों में गिराए गए ईंट के टुकड़े के कारण हो रहा है। सदर अस्पताल प्रशासन ने इस ईंट के टुकड़े मरीज और उनके परिजन की सुविधा की बात कह कर जल जमाव से मुक्ति के लिए डलवाया था लेकिन यह टूकड़ा अब अस्पताल आने वाले लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है। क्योंकि ईंट के टूकड़ों को समतल नहीं किया गया है। और न ही उस पर अन्य मेटेरियल डालकर चलने लायक बनाया गया है। ईंट के टुकड़े लगभग 1 महीने पूर्व डाले गए थे। जिस पर सड़क का निर्माण किया जाना था। लेकिन सड़क का निर्माण अब तक नहीं हो पाया। ऐसे में ईंट के टुकड़े पर रोज हो रही बरसात के पानी से कजली जम गया है। वे भींग कर खतरनाक हो गया है। उन पर फिसलन वाली चिकनाई जम गई है। जिस पर मरीज और उनके परिजन लगभग प्रतिदिन आते-जाते है। जिनसे वे चोटिल होकर सदर अस्पताल में ही भर्ती हो रहे हैं। सदर अस्पताल में विभिन्न योजनाओं से किए गए कार्यों की गुणवत्ता में भारी कमी देखी जा रही है।

लोगों की शिकायत मिल रही है
सदर अस्पताल मैनेजर अमित कुमार चंचल ने बताया कि सदर अस्पताल में जलजमाव से निजात दिलाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा ईंट के टुकड़े डाले गए हैं। जिला पदाधिकारी ने सदर अस्पताल परिसर के अंदर की सड़क को ऊंचा करने का निर्देश निर्गत किया था। जिससे अस्पताल में हो रहे जलजमाव से लोगों को मुक्ति मिल सके। उन्होंने बताया कि सड़क निर्माण कराना आवश्यक है। लोगों की भी शिकायत मिल रही है।

खबरें और भी हैं...