पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्वास्थ्य सुविधाओं का अभाव:दो ऑर्थोपेडिक सर्जन नियुक्त होने के बाद भी सदर अस्पताल में नहीं होता ऑपरेशन

सहरसा15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सदर अस्पताल में संसाधनों की कमी के कारण डॉक्टर हाथ कर देते खड़े

सदर अस्पताल में आज भी सर्जरी से पहले बेहोशी के लिए पुरानी परंपरा ही अपनाई जाती है। जहां छोटे ऑपरेशन के लिए सूई लगाकर मरीजों को बेहोश किया जाता है। वहीं बड़े ऑपरेशन के लिए ईथर या स्पाइनल सिरिंज से बेहोश किया जाता है। ऐसे में बड़े ऑपरेशन और ऑक्सीजन की आवश्यकता वाले मरीजों के ऑपरेशन में चिकित्सक काफी सशंकित रहते हैं।

वे अधिकतर गंभीर मरीजों को बड़े अस्पताल या निजी नर्सिंग होम रेफर कर देते हैं। ऑपरेशन कक्ष में अत्याधुनिक सुविधा नहीं होने के कारण बड़ा सर्जरी ऑपरेशन बहुत कम ही सदर अस्पताल में होता है। गरीब मरीजों को निजी नर्सिंग होम, दरभंगा एवं पटना के बड़े अस्पताल की ओर जाना पड़ता है। जिससे उन्हें आर्थिक, शारीरिक और मानसिक परेशानी झेलनी पड़ती है। सदर अस्पताल में ऑर्थोपेडिक ऑपरेशन की कोई सुविधा नहीं है। जबकि सदर अस्पताल में डॉ. रंजीत कुमार मिश्रा और डॉ. किशोर कुमार मधुप जैसे ऑर्थोपेडिक सर्जन नियुक्त हैं। लेकिन वे ऑर्थोपेडिक ऑपरेशन से परहेज करते हैं। चूंकि ऑर्थोपेडिक ऑपरेशन के लिए ऑपरेशन थिएटर होना आवश्यक है।

अस्पताल के वार्डों में जाने का रास्ता ऑपरेशन थिएटर से
सदर अस्पताल कोसी प्रमंडल का एक ऐसा अस्पताल है। जहां आस पास से भी मरीज रेफर होकर इलाज को पहुंचते हैं। लेकिन सदर अस्पताल में अत्याधुनिक कई संसाधनों का घोर अभाव है। हालांकि चिकित्साकर्मी से लेकर सिविल सर्जन तक सदर अस्पताल को पूरी तरह चुस्त-दुरुस्त बताते हैं। अस्पताल का ऑपरेशन थिएटर अत्याधुनिक होने के साथ-साथ साफ-सफाई और लोगों के पहुंच से दूर होनी चाहिए। लेकिन सदर अस्पताल के ऑपरेशन थिएटर के सामने कई वार्डों में आने-जाने का रास्ता बना हुआ है। जिससे रोज सैकड़ों मरीज और उनके परिजन आते-जाते हैं। जिससे ऑपरेशन थिएटर स्वच्छ नहीं रह पाता है। ऐसे में ऑपरेशन थिएटर के आगे से रास्ते को एक तरफ से बंद कर देना चाहिए। जिससे लोगों का शोरगुल गंदगी ऑपरेशन थिएटर तक नहीं पहुंच पाए।

किन संसाधन की आवश्यकता है। इसके लिए ओटी इंचार्ज एवं सदर अस्पताल के उपाधीक्षक मांग पत्र सुपुर्द करेंगे। इसके बाद अत्याधुनिक संसाधन लगाने की प्रक्रिया की जाएगी। अब-तक मांग पत्र नहीं आया है। -डॉ. अवधेश कुमार, सिविल सर्जन

ऑर्थोपेडिक सर्जरी के लिए सी आर्म मशीन उपलब्ध नहीं
सी आर्म मशीन एक्स-रे की तरह कार्य करता है , जो ऑर्थोपेडिक सर्जरी के लिए काफी लाभदायक है। जिससे ऑर्थोपेडिक सर्जन को सर्जरी करने में काफी सहूलियत मिलती है। उक्त मशीन सदर अस्पताल में उपलब्ध नहीं है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपका कोई भी काम प्लानिंग से करना तथा सकारात्मक सोच आपको नई दिशा प्रदान करेंगे। आध्यात्मिक कार्यों के प्रति भी आपका रुझान रहेगा। युवा वर्ग अपने भविष्य को लेकर गंभीर रहेंगे। दूसरों की अपेक्षा अ...

और पढ़ें