लव मैरिज के डेढ़ माह बाद पत्नी की हत्या!:मधुबनी की लड़की की सहरसा के ससुराल में मिली लाश, खिलाया गया है जहर

सहरसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतका कामिनी और उसके पति मनीष की शादी के दौरान की तस्वीर। - Dainik Bhaskar
मृतका कामिनी और उसके पति मनीष की शादी के दौरान की तस्वीर।

कामिनी को क्या पता था कि जिस युवक से वह प्रेम कर रही है, वो शादी के डेढ़ महीने बाद उसे जहर देकर मार डालेगा। वाकया है महिषी थाना क्षेत्र के पस्तवार गांव का। जहां प्रेम विवाह कर लाई गई युवती को दहेज के लिए जान से मार दिया गया। आरोप उसके पति के भाई और उसकी पत्नी पर जहर देने का है। कहा यह भी जा रहा है कि कामिनी ने पहले कई बार प्रताड़ना के खिलाफ महिषी थाना में गुहार लगाई थी। लेकिन वहां उसकी नहीं सुनी गई ससुर खुद ही थाने में चौकीदार हैं।

जानकारी के अनुसार कामिनी कुमारी मधुबनी जिला के घोघरडीहा थाना क्षेत्र के जयपट्टी गांव निवासी रामचंद्र पासवान की 21 वर्षीय पुत्री थी। वह पस्तवार निवासी मनीष कुमार के प्यार में पड़ गई। मनीष ने घरवालों के विरोध को देखते हुए न्यायालय में शादी करने का निर्णय लिया। दोनों बालिग थे। लिहाजा 21 अक्टूबर को कोर्ट में शादी कर ली। मनीष ने पहले उसे दस दिन सहरसा के होटल में रखा और अपने पिता को मनाता रहा।

कामिनी के शव के साथ उसके परिजन।
कामिनी के शव के साथ उसके परिजन।

इसके बाद मनीष पत्नी को लेकर अपने घर गया। तीन-चार दिनों तक सब कुछ सामान्य रहा। उसके बाद कामिनी को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा। अपने साथ होने वाली मारपीट से तंग आकर वह थाने में पहुंची। लेकिन थाने से कोरे आश्वासन के सिवा कुछ नहीं मिला। निराशा में जी रही कामिनी को लगा कि शायद महिला हेल्पलाइन से मदद मिल जाए। उसने यहां भी आवेदन दिया। किंतु, मदद नहीं मिली। अंततः मंगलवार को जहर खाने से उसकी मौत हो गई।

मृतका के परिजन और पस्तवार के ग्रामीणों का आरोप है कि उसे जहर देकर मारा गया है। मनीष के भाई राजीव एवं उनकी पत्नी के द्वारा जहर देने की बात सामने आ रही है। महिषी पुलिस मौके पर पहुंची। किंतु, आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर काफी देर तक शव नहीं उठने दिया गया।

खबरें और भी हैं...