सतर्कता:चार बजे के बाद बंद हुई दुकानें, बाजार में सन्नाटा

सहरसा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शंकर चौक पर पसरा सन्नाटा। - Dainik Bhaskar
शंकर चौक पर पसरा सन्नाटा।
  • जिले में 15 मई तक शाम 6 से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू का असर, चहलकदमी हुई कम

बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर जिला प्रशासन ने 29 अप्रैल से 15 मई तक के जिले में होने वाले विभिन्न प्रकार के क्रियाकलापों के संबंध में नया आदेश जारी किया है। शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू लगा दिया गया है। मेडिकल को छोड़कर सभी प्रकार की दुकानों का संचालन अब निर्धारित दिनों में सुबह 6 बजे से अपराह्न 4 बजे तक ही होगा। निर्धारत दिनों में दुकानों को खोलने के संबंध में पूर्ववत आदेश जारी रहेगा। सभी सरकारी एवं गैर सरकारी कार्यालय में 25 प्रतिशत कर्मियों की उपस्थिति होगी। सरकारी एवं गैर सरकारी कार्यालयों में कार्यरत कर्मियों को घर से काम करने के लिए प्रेरित करने तथा कार्यालय को 4 बजे बंद करने का आदेश दिया गया है। विवाह समारोह में 50 व्यक्ति की एवं अंतिम संस्कार कार्यक्रम में 20 व्यक्तियों की अधिसीमा होगी। विवाह समारोह के लिए रात्रि कर्फ्यू रात 10 बजे से प्रभावी होगा। इधर जिले में दुकानों के संचालन का समय अपराह्न 4 बजे तक करने के आदेश के पहले दिन गुरुवार को डीएम कौशल कुमार, एसपी लिपि सिंह एवं सदर एसडीओ शंभूनाथ झा शहर के मुख्य बाजार का मुआयना करने निकल पड़े। शहर के मुख्य बाजार, थाना चौक, डीबी रोड, शंकर चौक , महावीर चौक एवं रिफ्यूजी चौक का मुआयना करते हुए डीएम का काफिला पश्चिम की आेर निकल गया।

सुबह 9 बजे तक ही खुलेगी सब्जी और फल की दुकानें
प्रखंड मुख्यालयों में अवस्थित सब्जी एवं फल के थौक विक्रेताओं की दुकान प्रतिदिन सुबह 6 बजे से 9 बजे तक ही खुलेंगे। शंकर चौक सहरसा स्थित सब्जी मंडी में सब्जी एवं फल के थोक विक्रेता को सुबह 6 बजे से 9 बजे तक व्यवसाय करने की अनुमति दी गई है।

दुकान के आगे बनाना होगा गोल घेरा
दुकानों को सुबह 6 बजे से अपराह्न 4 बजे तक खोलने की अनुमति देने के साथ कुछ शर्ते लगाई गई है। व्यवसायियों को अपने दुकान के आगे श्वेत वृत्त बनाकर लोगों के बीच में सामाजिक दूरी का पालन करना होगा एवं एवं व्यवसायिक परिसर में मास्क पहनना अनिवार्य होगा। सर्दी, खांसी लक्षण वाले किसी को भी दुकानों में काम करने की एवं काउंटर पर जाने की अनुमति नहीं होगी दी गई है।

खबरें और भी हैं...