पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आक्रोश:वीसी, रजिस्ट्रार और परीक्षा नियंत्रक को 3 घंटे कार्यालय में बंद रखा

सहरसा /मधेपुरा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कुलपति कार्यालय के बरामदे पर धरना देते बैठे अभाविप कार्यकर्ता।
  • स्नातक में नामांकन की प्रक्रिया शुरू नहीं होने के कारण अभाविप कार्यकर्ताओं में आक्रोश, पदाधिकारी और शिक्षक निशाने पर
  • विवि प्रशासन छात्रों के भविष्य के साथ कर रहा खिलवाड़

बीएनएमयू में स्नातक पार्ट वन व पीजी फर्स्ट सेमेस्टर में नामांकन की प्रक्रिया शुरू नहीं हाेने सहित अन्य मांगों को लेकर मंगलवार को अभाविप कार्यकर्ताओं ने कुलपति डॉ. ज्ञानंजय द्विवेदी, रजिस्ट्रार डॉ. कपिलदेव प्रसाद और परीक्षा नियंत्रक उॉ. नवीन कुमार को लगभग तीन घंटे तक कार्यालय से बाहर नहीं निकलने दिया। इस दौरान कई पदाधिकारी और शिक्षक भी छात्रों के निशाने पर रहे। विवि की उदासीनता के कारण स्नातक पार्ट वन के नामांकन में हो रही देरी को लेकर अभाविप कार्यकर्ता साढ़े 11 बजे कुलपति कार्यालय पहुंच गए। कार्यालय के मेन गेट को बंद करते हुए सभी कार्यकर्ता वहीं बरामदे पर बैठकर विवि प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। कुलपति के निजी सहायक शंभु नारायण यादव व कुलसचिव कपिलदेव प्रसाद ने कई बार अभाविप कार्यकर्ताओं काे समझाने प्रयास किया, लेकिन वे लोग बिना लिखित आश्वासन का गेट खोलने को तैयार नहीं हुए। बाद में कुलसचिव ने छात्रों को 29 सितंबर से नामांकन की प्रक्रिया शुरू करने का लिखित आश्वासन दिया, तब जाकर पदाधिकारियों को कार्यालय से बाहर निकलने दिया गया। कुलपति कार्यालय में धरना दे अभाविप कार्यकर्ताओं ने कहा कि विवि प्रशासन के लचर कार्यशैली के कारण छात्रों का भविष्य बर्बाद हो रहा है। राजभवन ने एक माह पूर्व ही विवि को यूएमआईएस का नए सिरे से टेंडर कराने की अनुमति दे दिया है। इसके बावजूद विवि के पदाधिकारी जानबूझकर इसमें विलंब कर रहे हैं। ऐसे लापरवाह अधिकारियों को छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने का कोई अधिकार नहीं हैं। अभाविप के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सुजीत सांन्याल ने कहा कि यहां के अधिकारियों के आश्वासन वे लोग अब आजिज आ चुके हैं। पिछले एक महीने के अंदर तीन से चार बार नामांकन सहित अन्य मामले को लेकर कुलसचिव, कुलपति आदि से मिल चुके हैं, लेकिन एक भी समस्या का समाधान नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि जब तक विवि प्रशासन लिखित रूप से नामांकन की तिथि जारी नहीं देता है, तब तक अभाविप का आंदोलन जारी रहेगा। प्रदेश कार्यसमिति सदस्य मोनू झा, दिलीप कुमार , आमोद आनंद सहित अन्य कार्यकर्ताओं ने मांग किया कि यूजी व पीजी में इस बार नामांकन से लेकर परीक्षा परिणाम तक सभी प्रक्रिया ऑनलाइन की जाए।

29 से नामांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन करें
कुलपति प्रो. डॉ. ज्ञानंजय द्विवेदी के आदेश पर कुलसचिव डॉ. कपिलदेव प्रसाद ने पत्र जारी कर 29 सितंबर से ऑनलाइन आवेदन शुरू करने का आश्वासन दिया। उन्होंने बताया कि राजभवन के आदेशानुसार इस दौरान टेंडर की सारी प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। इस आशय का पत्र जारी होने के बाद अभाविप कार्यकर्ताओं ने धरना समाप्त कर दिया। धरना प्रदर्शन में भवेश झा, मुरारी कुमार मयंक, आमोद आनंद, अभिषेक यादव, सौरव यादव, विश्वजीत पीयूष, शिवम सिंह प्रिंस कुमार, हर्षवर्धन कुमार, चंदन कुमार, नन्हे सिंह सहित अन्य कार्यकर्ता शामिल थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें