पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निरीक्षण:काझी के समीप ड्रेनेज के पानी के बहाव को रोक रहे हैं मछुआरे, शिकायत पर पहुंचे अधिकारी

सलखुआ17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पानी का बहाव रोकने को तुरंत हटाने का निर्देश

तटबंध के भीतर मुख्य कोसी नदी के जल स्तर से खेत खलिहान व ड्रेनेज में पानी बढ़ने लगा है।पानी बढ़ने से स्लुइस गेट के रास्ते ड्रेनेज में मछुआरों द्वारा मछली को सुरक्षित रखने के लिए पानी को जगह-जगह बांध कर रोकने से आसपास के खेतों में लगी फसल बर्बाद होने की आंशका से किसानों की मुश्किल बढ़ने लगी है।जिसकी शिकायत मिलने पर बुधवार को अनुमंडल पदाधिकारी वीरेंद्र कुमार, अंचलाधिकारी श्याम किशोर यादव व अन्य ने सलखुआ प्रखंड क्षेत्र के गोरदह पंचायत के काझी ड्रेनेज पर पहुंच कर स्थल निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान मछुआरों के द्वारा काझी ड्रेनेज के समीप मछली को सुरक्षित रखने के लिए पानी के बहाव को रोकने के उद्देश्य से बांधा गया था। जिससे स्लूइस गेट के रास्ते पानी का बहाव कम होते ही किसानों की फसल चौपट हो रही है। एसडीओ बिरेन्द्र कुमार ने काझी ड्रेनेज के पास पानी को रोकने हेतु मछुआरों द्वारा बांध दिया गया था। जिसे अविलंब हटाने का निर्देश दिया। केनाल ड्रेनेज में मछुआरों के द्वारा पानी बहाव को रोकने से सलखुआ प्रखंड के सितुआहा,उटेसरा,गोरदह एवं सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड के ऐनी,बैडी व अन्य गांव के बहियार में जल जमाव से फसल की बर्बादी होती है।

सलखुआ प्रखंड के गोरदह पंचायत के काझी गांव के समीप ड्रेनेज केनाल में मछुआरों द्वारा पानी रोकने से फसल की बर्बादी की शिकायत पर एसडीओ विरेन्द्र कुमार,सीओ श्याम किशोर यादव,सलखुआ थानाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह समेत अन्य ने काझी गांव के समीप ड्रेनेज का निरीक्षण किया

इस बाबत अंचलाधिकारी श्याम किशोर यादव ने बताया कि अनुमंडल पदाधिकारी के निर्देश पर मछुआरों को शख्त निर्देश दिया गया है। अविलंब पानी के बहाव को रोकने हेतु बनाए रोक को हटाने का निर्देश दिया गया।

खबरें और भी हैं...