गैंगवार में हुई हत्यारे की हत्या / मुंदीचक में मचान पर सो रहे सुपारी किलर गफ्फार मियां को गोलियों से भूना फिर गला रेत कर दी हत्या

सलखुआ में रोते बिलखते परिजन व घटनास्थल पर छानबीन करती बनमा पुलिस। सलखुआ में रोते बिलखते परिजन व घटनास्थल पर छानबीन करती बनमा पुलिस।
Gratefar Mian, who was sleeping on the scaffolding in Mundichak, was strangled and then strangled to death
X
सलखुआ में रोते बिलखते परिजन व घटनास्थल पर छानबीन करती बनमा पुलिस।सलखुआ में रोते बिलखते परिजन व घटनास्थल पर छानबीन करती बनमा पुलिस।
Gratefar Mian, who was sleeping on the scaffolding in Mundichak, was strangled and then strangled to death

  • रणवीर यादव गुट से पुराना विवाद, माठा में गोलीबारी के बाद भजन शर्मा के घर छिपा था गफ्फार, साथ सो रहे बेटे व भतीजे को जगा कर सामने ही दिया वारदात को अंजाम
  • रणवीर यादव सहित 11 के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज, छापेमारी कर रही पुलिस

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

सलखुआ. बनमा ओपी क्षेत्र के मुंदीचक गांव में रविवार की रात मचान पर सोए कुख्यात अपराधी व सुपारी किलर गफ्फार मियां की गोलियों से भूनने के बाद गला रेत कर हत्या कर दी गई। पुलिस के अनुसार पूर्व से ही गांव के दो अपराधी गुटों के विवाद में दूसरे गुट के रणवीर यादव सहित अन्य ने हत्या को अंजाम दिया है। पहले गफ्फार के सिर में तीन गोली मारी गई, जिसके बाद उसका गेला रेता गया। बूंदाबांदी के बीच मध्य रात्रि में हुई अचानक गोली की आवाज से मुंदीचक गांव में सनसनी फैल गई। दहशत में लोग घर से बाहर नहीं निकले। गोलीबारी के दो मामले में फरार चल रहे अपराधी गफ्फार मियां पुलिस से बचने के लिए बनमा इटहरी के मुंदीचक गांव स्थित भजन शर्मा के घर छुप कर रह रहा था। दूसरे गुट के अपराधियों को इसकी खबर लगी और वहां पहुंच कर ढेर कर दिया। मृतक अपराधी सलखुआ थाना क्षेत्र के माठा गांव का रहने वाला था।
सिमरी बख्तियारपुर डीएसपी मृदुला कुमारी ने बताया कि गफ्फार मियां की हत्या में उसी गांव के कुख्यात रणवीर यादव का हाथ है। रणवीर और गफ्फार के बीच वर्षों से गैंगवार चला आ रहा था। डीएसपी ने बताया कि गफ्फार की बहू वसीला खातून पति मो. शमीम के लिखित आवेदन पर माठा गांव निवासी रणवीर यादव एवं मुंदीचक निवासी कुख्यात संतोष यादव सहित 11 लोगों को नामजद किया गया है। पुलिस ने घटनास्थल से तीन खाली कारतूस बरामद किया है। वही अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह छापेमारी की जा रही है। 

बेटे व भतीजे के साथ सोया था गफ्फार
मृतक गफ्फार मियां भजन शर्मा के यहां अक्सर पुलिस की नजर से बचने के लिए छिप कर रहता था। जहां खाना खाने के बाद रविवार की रात वह भजन के घर के पीछे बने मचान पर सोने चला गया। मृतक के पुत्र टीरो मियां ने बताया कि वह अपने पिता और चचेरे भाई के साथ मुंदीचक स्थित भजन शर्मा के घर के पीछे बने मचान पर सो रहा था। रात करीब दो बजे एक दर्जन हथियारबंद बदमाश आए और पहले उसे और चचेरे भाई को उठा कर हथियार दिखाते हुए अलग कर दिया। फिर उसके सामने ही उसके पिता गफ्फार को गोलियों से छलनी करने के बाद चाकू से गला रेत दिया। 

बहू के आवेदन पर दर्ज की गई प्राथमिकी
घटना की सूचना पर बनमा ओपी पुलिस घटनास्थल पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सहरसा भेज दिया। पुलिस भजन शर्मा से भी पूछताछ कर रही है जिसके घर गफ्फार ठहरता था। वहीं मृतक की बहू वसीला खातून ने आवेदन देकर माठा निवासी रणवीर यादव, मुंदीचक निवासी संतोष यादव सहित तेजो यादव, लभलेश यादव, दुलार यादव, छत्तीस यादव, ब्रजेश यादव, दिलीप यादव, नरेश यादव, मनोज यादव व विजय शर्मा को नामजद किया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना