पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

भास्कर इंपैक्ट:तीन साल के बाद सिकटी अंचल के कैश बुक को किया अद्यतन

सिकटी12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बाढ़ आपदा की जो भी राशि बचा थी वह कोविड-19 के दौरान खर्च हो गए

भास्कर में खबर छपने के बाद तो तीन वर्ष से पेंडिंग अंचल कार्यालय का कैश बुक का तो संधारण हो गया है, लेकिन वर्ष 2017 के बाढ़ से प्रभावित जिन लोगों को बाढ़ सहायता राशि नहीं मिला था वो राशि अब नहीं मिलेगा। सीओ का कहना है कि बाढ़ आपदा की राशि जो था वह राशि कोविड-19 में खर्च हो गया है। यहां बता दें कि गत सितंबर माह में भास्कर ने वर्ष 2017 से सिकटी अंचल का कैश बुक संधारण नहीं होने का मामला प्रमुखता से उठाया था। जिस पर जिलाधिकारी ने संज्ञान लिया था। डीएम प्रशांत कुमार सीएच ने बक्सर व खगड़िया जिलाधिकारी को आवेदन देकर तत्कालीन दोनों सीओ को कैश बुक संधारण करने के लिए अपील किया था। तत्कालीन सीओ प्रेम कुमार शर्मा खगड़िया जिला में पदस्थापित है। उसके बाद आये तत्कालीन सीओ रवि प्रसाद पासवान बक्सर जिला के इटहरी में चकबंदी पदाधिकारी के रूप में कार्यरत हैं। तत्कालीन सीओ प्रेम कुमार शर्मा के समय में वर्ष 2017 में सिकटी के 14 पंचायत बाढ़ से पूरी तरह से तबाह हुआ था। उसी समय से सिकटी अंचल का कैश बुक का संधारण नहीं हो पाया। उसके तबादला के बाद आये तत्कालीन सीओ रवि प्रसाद पासवान ने नया कैश बुक खोलकर काम किया था। नये सीओ विरेन्द्र कुमार सिंह ने जब कैश बुक का चार्ज नहीं लिया तब यह मामला तुल पकड़ने लगा।

वर्ष 2017 में सिकटी प्रखंड से 33 हजार परिवारों को मिलनी थी बाढ़ आपदा की राशि
वर्ष 2017 के भीषण बाढ़ में सिकटी प्रखंड के सभी 14 पंचायतों में भारी तबाही मचायी थी। बाढ़ सहायता राशि के लिये सिकटी प्रखंड के सभी 14 पंचायतों से लगभग 33 हजार परिवारों को बाढ़ सहायता राशि के रूप में छह हजार रूपया दिये जाने का प्रावधान था। सभी बाढ़ प्रभावित परिवारों को चावल, दाल, आलू आदि समान भी दिया गया। बाढ़ आपदा की सहायता राशि में सिकटी प्रखंड के सभी 14 पंचायतों से सैकड़ों की संख्या में लोगों का खाता संख्या में गड़बड़ी व अन्य गड़बड़ी के कारण वैसे परिवारों के खाते में बाढ़ राहत सहायता का छह हजार राशि नहीं जा सका जिन परिवारों को राशि नहीं मिला वैसे परिवार अंचल कार्यालय का बार-बार चक्कर लगाते रहे। अधिकारियों द्वारा यही कहा जाता था कि कैश बुक संधारण होने के बाद राशि खाते में भेज दिया जायेगा। लेकिन अब जब कैश बुक का संधारण हो गया है तो सीओ विरेन्द्र कुमार सिंह का कहना है कि बाढ़ आपदा का जो भी राशि बचा था वह कोविड-19 के दौरान खर्च हो गये हैं। जिस कारण अब पैसा नहीं मिलेंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थितियां आपके पक्ष में है। अधिकतर काम मन मुताबिक तरीके से संपन्न होते जाएंगे। किसी प्रिय मित्र से मुलाकात खुशी व ताजगी प्रदान करेगी। पारिवारिक सुख सुविधा संबंधी वस्तुओं के लिए शॉपिंग में ...

और पढ़ें