पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पूजा-पाठ:सोमवती अमावस्या पर सुहागिनों ने की पूजा-अर्चना

सिमरी बख्तियारपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सोमवार को सुबह से ही सिमरी बख्तियारपुर अनुमंडल क्षेत्र के सिमरी बख्तियारपुर, सलखुआ एवं बनमा ईटहरी प्रखंड मुख्यालय समेत ग्रामीण क्षेत्र में सोमवती अमावस्या पर पीपल पेड़ के नीचे पूजा-अर्चना की। धर्मशास्त्रों के अनुसार सोमवती अमावस्या का दान-स्नान सभी पापों का नाश करता है। परिवार में सुख-शांति और समृद्धि के साथ-साथ पति की लंबी आयु की कामना लेकर सोमवती अमावस्या पर महिलाओं ने वासुदेव भगवान के रूप में पूजे जाने वाले पीपल वृक्ष का पूजन कर परिक्रमा की और यथासंभव अन्न एवं श्रृंगार की ढेर सारी सामग्रियों का दान किया। सर्वप्रथम महिलाएं दूध, घी, हल्दी, चंदन आदि सामग्रियों से विधि-विधान से भगवान वासुदेव का पूजन कर फल और मिष्ठान का प्रसाद चढ़ाया।

खबरें और भी हैं...