विरोध:सफाई कर्मियों ने बकाया भुगतान को लेकर किया हंगामा

सिमरी बख्तियारपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
निर्वतमान नगर परिषद अध्यक्ष के आवास पर मौजूद सफाईकर्मी - Dainik Bhaskar
निर्वतमान नगर परिषद अध्यक्ष के आवास पर मौजूद सफाईकर्मी
  • पीएफ व सैलरी को ले नप अध्यक्ष के आवास पर झाड़ू के साथ किया प्रदर्शन

नगर परिषद के सफाईकर्मी शुक्रवार को कोरोना काल में किए गए कार्य का बकाया भुगतान नहीं होने, एक वर्ष के बकाए पीएफ और नियमित वेतन नहीं मिलने के विरोध में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए। सुबह सैकड़ों की संख्या में सफाई कर्मियों ने हाथों में झाड़ू लेकर सड़कों पर प्रदर्शन करते हुए निवर्तमान नप अध्यक्ष रौशन आरा के आवास पर पहुंचकर हंगामा करने लगे। सफाई कर्मियों ने निवर्तमान अध्यक्ष से समस्या से अवगत कराते हुए समाधान की बात कही। निवर्तमान अध्यक्ष पति मो. मोजाहिर आलम ने कहा कि अब अध्यक्ष का पावर समाप्त हो चुका है इस स्थिति में हम आपलोगों की कोई मदद नहीं कर सकते हैं। इसके सफाई कर्मियों का गुस्सा फूट पड़ा और शोर शराबा करते सड़क पर आ गए और स्टेट मैदान में धरना पर बैठ गए। सफाई कर्मियों ने नगर परिषद अध्यक्ष पति पर भगा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि अभी तक हमलोगों को समय पर वेतन नहीं दिए हैं। आज मकर संक्रांति जैसे पर्व पर भी हमलोग को वेतन नहीं मिला है। अब हमारे व बच्चों के आगे भूखमरी स्थिति बन गई है। जब हमलोग अपने इस समस्या को लेकर निवर्तमान नगर अध्यक्ष रौशन आरा के घर पर गए तो वह भी समस्या का समाधान की बात नहीं कर हमलोगों को भगा दिया । अब जब तक हमारे पीएफ और कोरोना काल में किए कार्य का पैसा सहित ससमय वेतन भुगतान का पुख्ता का अश्वासन नहीं मिल जाता तब तक हम सफाईकर्मी हड़ताल पर रहेंगे। सफाई कर्मियों ने नगर के सुपरवाइजर मंटु पासवान पर भी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि सैलरी मिलने पर जबरन दो सौ रुपए ले लेता है, नहीं देने पर हाजरी काटने की धमकी देता है। ऐसे सुपरवाइजर पर अविलंब कार्रवाई की जाए और विगत एक वर्ष में पीएफ का बकाया पैसा का भुगतान किया जाए ।

एनजीओ को भुगतान नहीं होने की स्थिति में सफाई कर्मियों का भुगतान नहीं हो पाया
ट्रेजरी से ही अब तक सफाई कार्य में लगे एनजीओ को भुगतान नहीं होने की स्थिति में सफाई कर्मियों का भुगतान नहीं हो पाया है। जिसे सोमवार तक भुगतान कर दिया जाएगा। और रही बात उनके बकाए 1 वर्ष के पीएफ का तो एनजीओ के साथ बैठक कर इसका भी अविलंब समाधान निकाल सफाई कर्मियों को भुगतान कर दिया जाएगा। सुपरवाइजर पर लगे आरोप की जांचोपरांत दोषी पर कार्रवाई तय की जाएगी।
केशव गोयल , नप कार्यपालक पदाधिकारी, सिमरीबख्तियारपुर

खबरें और भी हैं...