पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:वसूली कर रहे फर्जी एक्ससाइज अधिकारी को ग्रामीणों ने पीटा, फिर पुलिस को सौंपा

सिमरी बख्तियारपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बलहमपुर गांव से पकड़े गए फर्जी उत्पाद इंस्पेक्टर को ले जाती पुलिस। - Dainik Bhaskar
बलहमपुर गांव से पकड़े गए फर्जी उत्पाद इंस्पेक्टर को ले जाती पुलिस।
  • रायपुरा पंचायत अंतर्गत बलहमपुर गांव का मामला, एक ठग मौके से हुआ फरार
  • ग्रामीणों के अनुसार शराब बेचने का झूठा आरोप लगा कर रहे थे वसूली, एक महिला सहित तीन बने शिकार

रायपुरा पंचायत अंतर्गत बलहमपुर गांव में रविवार की दोपहर ग्रामीणों को शराब बेचने का डर दिखा लोगों से वसूली करने वाले बाइक सवार दो में से एक फर्जी उत्पाद अधिकारी को पकड़ कर उसकी धुनाई करते पुलिस के हवाले कर दिया। ग्रामीणों को एकजुट होता देख दूसरा फर्जी अधिकारी बाइक लेकर मौके से फरार हो गया। सूचना पर पहुंचे पुलिस बलों के साथ एसआई मो. मोजम्मिल खां ने उस फर्जी अधिकारी को पकड़ कर थाने ले आया। रायपुरा पंचायत के बलहमपुर गांव के ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि पकड़े गया व्यक्ति गांव में बाइक पर सवार होकर दो आदमी के साथ आया। जो अपने आप को उत्पाद विभाग का इंस्पेक्टर बता कर लोगों को शराब बेचने का डर दिखाते हुए वसूली कर रहा था। इतना ही नहीं रुपए देने में लोगो के द्वारा आनाकानी करने पर उसके साथ मारपीट भी करने लगा। जिसके बाद तुरंत यह बात गांव में फैल गई। ग्रामीणों ने एक व्यक्ति को पकड़ कर पूछताछ किया। पकड़ने के बाद पकड़ा गया व्यक्ति ग्रामीणों की पूछताछ क्रम में अपना नाम व पता बारबार अदल-बदल कर बता रहा था। जिसके बाद और भी ज्यादा शक हुआ और उसे पकड़ लिया गया। प्रभारी थानाध्यक्ष शिवशंकर कुमार ने बताया कि पुलिस के द्वारा मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।

फर्जी अधिकारी ने कहा- आरोप बेबुनियाद है, मुझे पीटा गया

फर्जी अधिकारी ने अपना नाम पप्पू कुमार और पिता का नाम बनारसी महतो बताया। घर का पता सलखुआ थाना अंतर्गत चिरैया ओपी क्षेत्र के सहुरिया बसाही गांव बताया। ग्रामीणों के अनुसार पप्पू ने ग्रामीणों के आरोप को पूरी तरह से झूठा व बेबुनियाद बताया। उसने बताया कि मेरे साथ में बलहमपुर गांव निवासी ललन सिंह था। जो कि ललन सिंह के साथ बलहमपुर गांव के ही संजय सिंह के यहां जा रहा था। ललन सिंह बाइक लेकर चला गया और लोगों ने मुझे रोककर पीटा। वहीं मारपीट करते हुए मेरा एक मोबाइल तथा 34-35 सौ रुपए जेब से छीन लिया।

2500, 2000 और 100 रुपए तीन से की वसूली

ठगी की शिकार एक महिला सहित तीन लोग हुए। पीड़िता विधवा स्व. लूटन चौधरी की पत्नी सीता देवी ने बताया 25 सौ रुपए ठग लिया। इसी पंचयात के मोलातकिया निवासी मो. सलाउद्दीन से 100 रुपए एवं एक मोबाइल, बलहमपुर गांव निवासी डोमी ठाकुर से 2 हजार रुपए जबरन निकाल लिया। पीड़ित ने बताया कि वह व्यक्ति अपने एक अन्य साथी के साथ आया और कहने लगा कि हम उत्पाद विभाग के इंस्पेक्टर हैं, तुम लोग शराब बेचते हो। सभी को पकड़ कर ले जाएंगे, नहीं तो बचना है तो जल्दी रुपया निकालो। इसके बाद रुपए देने में लेट होने पर हमलोगों से मारपीट की गई और जेल भेजने का डर दिखाने लगा। जिसके बाद मो. सलाउद्दीन के अनुसार एक सौ रुपए और मोबाइल ले लिया गया। दुसरा डोमी ठाकुर से दो हजार रुपए ले लिया गया और तीसरे सीता देवी के अनुसार 2500 रुपए लिए।

खबरें और भी हैं...