पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

किसान चिंतित:बालू खनन से पैइन के अस्तित्व पर खतरा, सिंचाई की समस्या

सोनो2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चरैया बहियार की सिंचाई पैइन।

प्रखंड के बरनार नदी से बालू के खनन से सिंचाई के लिए प्रयोग किए जा रहे पैइन के अस्तित्व पर खतरा मंडरा रहा है। पिछले करीब सौ वर्षों से प्रखंड के कौड़िया बहियार,चरैया बहियार तथा भड़ारी बहियार के सौ एकड़ जमीन की सिंचाई इसी सरकारी पैइन के सहारा किया जाता था, लेकिन पैइन के मुहाने पर नदी की गहराई बढ़ जाने से पैइन के उड़ाही के पश्चात भी पानी मिलना संभव प्रतीत नहीं हो रहा है।

यहां के किसानों के सामने खेती के लिए सिंचाई की गंभीर समस्या बनी हुई है। बरनार नदी के कॉलेज के पास के घाट से यह पैइन निकलता है। प्रत्येक साल स्थानीय किसानों एवं मजदूरों के द्वारा श्रम दान से इस पैइन की उड़ाही की जाती थी, जिसके बाद खेती योग्य जमीन को सिंचाई के लिए पानी मिलता है। अब पैइन के मुहाने पर नदी की गहराई बढ़ गई है तथा जल स्तर नीचे चला गया है, जिससे पैइन में पानी नहीं चल पा रहा है।

धान की होती है अच्छी पैदावार, सिंचाई के लिए पैइन ही सहारा
कोड़िया बहियार, चरैया बहियार एवं भड़ारी बहियार के खेतों में धान की अच्छी पैदावार होती है। सिंचाई के लिए यहां यह पैइन ही एक मात्र सहारा है लेकिन इस पैइन के बंद हो जाने से यहां की उपजाऊ भूमि के बंजर हो जाने की संभावना बढ़ गई है। पैइन के बंद हो जाने की संभावना के बाद यहां के किसान सिंचाई के लिए वैकल्पिक साधनों का सहारा ले रहे हैं।

जगह जगह बोरिंग करवाया जा रहा है लेकिन भू-गर्भ जल स्रोत भी काफी नीचे होने के कारण सभी जगह बोरिंग भी नहीं हो पा रहा है। कुछ स्थानों पर बोरिंग किया गया है लेकिन यहां के सभी खेतों को इनसे पानी मिलना संभव नहीं प्रतीत हो रहा है। वही किसान नथुनी राय, बबलू कुमार,महेंद्र रजक, बमभोला, उपेंद्र सिंह, गोरी राय,कारू पंडित आदि ने प्रशासन से बड़े स्तर पर इस पैइन की उड़ाई की मांग की है ताकि पैइन का अस्तित्व कायम रह सके और किसानों को फायदा मिल सके।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें