चिंताजनक:एक दिन में रिकॉर्ड 440 नए संक्रमित मिले, जिले में 2356 एक्टिव मरीज

सुपौल6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बावजूद त्रिवेणीगंज में लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे और न मास्क पहन रहे। - Dainik Bhaskar
कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बावजूद त्रिवेणीगंज में लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे और न मास्क पहन रहे।
  • बरुआरी के अधेड़ की सहरसा में कोरोना से मौत, शिक्षा विभाग के कर्मी ने भी तोड़ा दम

जिले में जिला प्रशासन के मुताबिक बुधवार को कोरोना से 2 मौतें हुई हैं। 440 नए मरीज मिले हैं। इनमें सुपौल सदर प्रखंड के 132, सरायगढ़-भपटियाही के 19, निर्मली के 10, मरौना के 15, किसनपुर के 9, पिपरा के 45, त्रिवेणीगंज के 32, बसंतपुर के 22, छातापुर के 31, प्रतापगंज के 28 व राघोपुर प्रखंड के 78 नए मरीज हंै। डीपीआरओ संतोष कुमार ने बताया कि 2356 एक्टिव केस हैं।

वहीं, बरुआरी के बरुआरी पश्चिम टोला निवासी कोरोना संक्रमित 47 वर्षीय रमन सिंह ने मंगलवार की देर रात सहरसा के निजी हॉस्पिटल में दम तोड़ दिया। परिजनों ने बताया कि उनके एक संबंधी की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। जिनसे वह मिलने गए थे और कुछ दिन बाद पॉजिटिव व्यक्ति की मौत हो गई थी। कुछ दिन बाद रमन की तबीयत खराब हो गई।

परिजनों ने रमन को सहरसा के निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया। जहां जांच में उनकी रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आने पर इलाज चल रहा था। चार दिनों से तबीयत ज्यादा खराब होने के बाद उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था। मंगलवार की देर रात उन्होंने अंतिम सांस ली। इधर, सरायगढ़-भपटियाही की बनैनिया पंचायत के शिवपुर गांव निवासी सैनी सरदार 58 वर्ष के थे।

परिजनों के अनुसार सैनी सरदार सासाराम जिले के मझौली में अनौपचारिक शिक्षा में कर्मचारी थे। कुछ दिन पहले अपने गांव आए थे। सीएचसी के स्वास्थ्य प्रबंधक मो. मिन्नातुल्लाह व बीसीएम प्रफुल्ल प्रियदर्शी ने बताया कि सैनी सरदार का अस्वस्थ होने के कारण परिजनों द्वारा कोरोना की जांच कराई गई थी। 19 अप्रैल को एंटीजन किट से जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

संक्रमित होने पर मेडिकल टीम द्वारा उन्हें होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई थी। तबीयत में सुधार नहीं होने पर उन्हें 27 अप्रैल को सदर अस्पताल भेजा गया।

खबरें और भी हैं...