स्वदेश वापसी:खारकीव से टैक्सी पकड़ देर रात पोलैंड पहुंचे अजय, 15 किमी चलना पड़ा पैदल

सुपौल5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घर लौटने के बाद अपने माता-पिता के साथ रवि। - Dainik Bhaskar
घर लौटने के बाद अपने माता-पिता के साथ रवि।
  • पिपरा के अभिषेक गुरुवार की शाम पहुंचे पटना, प्रतापगंज के रवि पहुंचे घर, कहा-सरकार करे विचार नहीं तो तीन वर्ष की मेहनत हो जाएगी बर्बाद

यूक्रेन के कीव शहर में पढ़ाई कर रहे जिला मुख्यालय के हटखोला रोड निवासी घनश्याम चौधरी के पुत्र सिद्धार्थ राममूर्ति पिछले 02 दिनों से रोमानिया स्थित शेल्टर होम में हैं। उनके भाई विवेक राममूर्ति ने बताया कि मंगलवार की रात वे अपने दोस्तों के साथ यूक्रेन से ट्रेन से रोमानिया पहुंचे। फिलहाल वह रोमानियां में छात्रों के रहने के लिए बनाए गए शेल्टर होम में करीब 600 भारतीय छात्र के साथ है। जहां पर कई एनजीओ छात्रों के रहने से लेकर खाने-पीने के प्रबंध में लगे हैं। उन्होंने बताया कि इंडियन एंबेसी से उनलोगों की लगातार बात हो रही है। गुरुवार को ही इंडिया के लिए उनकी फ्लाइट टेकऑफ करने वाली थी। लेकिन वहां का मौसस खराब होने के कारण आज फ्लाइट कैंसिल हो गई। संभव है कि शुक्रवार को सभी छात्रों को लेकर फ्लाइट टेकऑफ करेगी। बता दें कि रूस के हमले के बाद यूक्रेन में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे जिले के 19 छात्र यूक्रेन के विभिन्न शहरों सहित आसपास के रोमानिया, पोलैंड सहित अन्य देशों में फंसे हुए थे। जहां से सभी को भारत वापस लाने का केन्द्र सरकार अभियान जारी है। इधर, यूक्रेन से प्रतापगंज के तिनटोलिया निवासी छात्र रवि गुरूवार की दरे शाम अपने घर पहुंचे। जहां उन्होंने भारत सरकार की मदद के लिए आभार जताया। वहीं रोमानिया में सभी छात्रों की सहायता के के लिए वहां के लोगों के प्रति आभार जताया कि उन्लोगों ने सभी का सकुशल घर लौटने में काफी मदद किया। उन्होंने भारत सरकार से सवाल किया भी किया कि अब उन छात्रों का क्या होगा। जो युक्रेन में मेडिकल की पढाई कर रहे थे। अगर युद्ध समाप्त नही हुआ तो उनके 03 वर्ष की पढा़ई, मेहनत एवं खर्च सब बर्बाद हो जाएगा। इस पर भारत सरकार को विचार करना चाहिए। वहीं बताया कि गुरुवार की सुबह फ्लाइट से रोमानिया से दिल्ली एवं पुनः फ्लाइट से दरभंगा पहुंचे। जहां से देर शाम घर पहुंचे।

अजय के आज वतन वापसी की उम्मीद
किशनपुर प्रखंड क्षेत्र के मेहासिमर पंचायत अंतर्गत मधुरा निवासी अभिनंदन प्रसाद यादव के पुत्र अजय कुमार खारकीव से टैक्सी से बुधवार की रात पोलैंड पहुंचे। जहां से गुरुवार की रात फ्लाइट से स्वदेश रवाना होने की उम्मीद है। गुरुवार को अजय के पिता अभिनंदन प्रसाद यादव ने कहा कि मेरा बेटा बुधवार की देर रात खारकीव से पौलेंड पहुंच गया। जहां से गुरूवार की रात फ्लाइट से भारत वापसी की संभावना है। उन्होंने कहा कि सवेरे अजय ने बताया कि खारकीव से टैक्सी पकड़ कर देर रात पोलैंड पहुंचे। जहां 15 किलोमीटर पैदल सफर करना पड़ा। गुरूवार की रात फ्लाइट मिलने की संभावना है। अभिनंदन यादव के कहा कि मुझे सरकार पर पूरा भरोसा है। वे मेरे बेटे को सकुशल ले आएंगे। वहीं अजय की मां शलिया देवी बेटे के वापसी की आस लगाए राह देख रही हैं। इस दौरान प्रो श्याम यादव मौजूद थे।

गुरुवार की रात रोमानियां पहुंचे राघोपुर के गुलशन
इधर, राघोपुर के पिपराही निवासी छात्र गुलशन कुमार सिंह के अब तक यूक्रेन से बाहर नहीं निकल पाने से उनके माता-पिता काफी परेशान हैं। वे अपने पुत्र गुलशन की सकुशल भारत वापसी के लिए भगवान के प्रार्थना एवं सरकार से प्रार्थना कर रहे हैं। हालांकि इस बीच गुलशन ने गुरुवार की दोपहर अपने माता-पिता को मैसेज के माध्यम से कहा है की वे और उनके सभी साथी युक्रेन के खारकीव शहर से रोमानिया बॉर्डर जाने के लिए ट्रेन में बैठे हुए है।

पटना पहुंचे पिपरा के अभिषेक आनंद
पिपरा के छात्र अभिषेक आनंद गुरुवार को स्वदेश पहुंच गए। गुरुवार को दिल्ली एयरपोर्ट पर से हुई बातचीत में अभिषेक आनंद ने कहा कि वे लोग रोमानिया के शेल्टर होम में थे। जहां से भारतीय समयानुसार गुरुवार की सुबह 3:30 की फ्लाइट से दिल्ली के लिए रवाना हुए। दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उनकी फ्लाइट 10 बजे लैंड हुई। भारत सरकार के प्रयासों से सकुशल वतन वापसी पर अभिषेक आनंद ने बताया कि गुरुवार की संध्या 6:30 बजे स्पाइसजेट की फ्लाइट से वे पटना पहुंचे। जहां से उसे अपने घर बसहा(सुपौल) पहुंचाया जाएगा। बार-बार प्रधानमंत्री मोदी व भारत सरकार के प्रति आभार प्रकट करते हुए अभिषेक आनंद भावुक हो गए। इधर, अभिषेक के पिता प्रो. अमरेंद्र कुमार मंडल भाव विभोर होते हुए कहा कि भगवान की कृपा से उनका बेटा सकुशल स्वदेश आ गया है। जल्दी घर भी आ जाएगा। वह और उनका परिवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति दिल से आभारी है। जिनके प्रयासों से उनका बेटा यूक्रेन के युद्ध के मैदान से स्वदेश वापस लौट आया।

खबरें और भी हैं...