पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

तैयारी:अयोध्या के राम जन्मभूमि स्थल पर मंदिर निर्माण में ईंट, सीमेंट, रेत का नहीं होगा प्रयोग : कामेश्वर

बलुआ बाजार4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लक्ष्मीनियां पंचायत में दौरा के दौरान विहिप व बजरंग दल के सदस्यों के साथ कामेश्वर चौपाल व अन्य।
  • श्रीराम जन्मभूमि स्थल पर मंदिर निर्माण के लिए 70 प्रतिशत पत्थर तैयार

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य सह पूर्व विधान पार्षद कामेश्वर चौपाल ने सोमवार को छातापुर प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न पंचायतों का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने लक्ष्मीनियां में लोगों से मिलकर अनुभव साझा किया। इसी क्रम में बजरंग दल के पूर्व जिला संयोजक कमलेश मिश्र के घर पहुंचे। जहां करीब तीन घंटे के बातचीत में विश्व हिन्दू परिषद संगठन से जुड़े कार्यकर्ताओं को संगठन का पाठ पढ़ाया और अयोध्या में बन रहे श्रीराम जन्मभूमि स्थल पर मंदिर निर्माण कार्य की विस्तार से जानकारी दी। वहीं ट्रस्ट के सदस्य श्री चौपाल ने बताया कि अयोध्या में अभी मंदिर निर्माण का कार्य प्रारंभ नहीं हुआ है। मंदिर केवल पत्थरों से बनेगा। इसमें ईंट, सीमेंट, रेत आदि का प्रयोग नहीं होगा। उन्होंने बताया कि मंदिर निर्माण के लिए करीब 70 प्रतिशत पत्थरों की कटाई हो चुकी है और जल्द ही मंदिर परिसर क्षेत्र में भूमि पूजन कर मंदिर निर्माण कार्य प्रारंभ हो जाएगा।  चीन के गतिरोध के बीच हर वर्ग दें सरकार का दें साथ : रामेश्वर चौपाल ने युवाओं को समाज के सभी वर्गों को एकजुट करने का निर्देश दिया। उन्होंने चीन द्वारा जारी गतिरोध के बीच सरकार के साथ बने रहने के लिए अपील की। उन्होंने चाइनीज समान का पूर्णत: बहिष्कार करने की अपील की। मौके पर बजरंग दल जिला संयोजक मुकेश यादव, छातापुर बजरंग दल प्रखंड सहसंयोजक बमबम सोनी, विहिप छातापुर प्रखंड़ उपाध्यक्ष फुल कुमार सोनी, लक्ष्मीनियां विहिप पंचायत अध्यक्ष भूपेंद्र राय, लक्ष्मीनियां बजरंग दल पंचायत संयोजक गगन राय, भाजपा मंडल महामंत्री आशीष कांत झा, भीमपुर विहिप पंचायत अध्यक्ष संजीत ठाकुर, प्रमोद राम, निशांत झा, विरेन्द्र राय, रविन्द्र राय, अनिल ठाकुर, लाल बहादुर सिंह सहित दर्जनों लोग मौजूद थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कड़ी मेहनत और परीक्षा का समय है। परंतु आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल रहेंगे। बुजुर्गों का स्नेह व आशीर्वाद आपके जीवन की सबसे बड़ी पूंजी रहेगी। परिवार की सुख-सुविधाओं के प्रति भी आपक...

और पढ़ें