पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मोबाइल पे सुविधा:मिस्ड काॅल देकर बच्चे सुन सकेंगे दादी-नानी की कहानियां

सुपौल10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आईसीडीएस, यूनिसेफ और प्रथम बुक्स ने लाया ‘मिस्ड काॅल दो कहानी सुनो’ कार्यक्रम
  • खेल-खेल में ही बच्चों में अच्छे संस्कारों को प्रोजेक्ट किया जाता है

कोरोना काल में एक तरफ स्कूल कॉलेज व सभी प्रकार के शैक्षणिक संस्थान बंद हैं जिससे बच्चों व छात्रों की पढ़ाई-लिखाई बंद है। हालांकि ऑनलाइन क्लासेज के जरिए छात्रों की पढ़ाई की व्यवस्था की गई है, मगर यह अपेक्षित प्रभावी नहीं दिख रहा है। इधर, आईसीडीएस, यूनिसेफ और प्रथम बुक्स ने एक अनोखी पहल शुरू की है। जिसके तहत एक मिस्ड कॉल से बच्चे और युवा अपने पसंद की कहानी सुन सकते हैं। खासकर दादी और नानी की कहानियां बच्चों के ध्यान में रखकर प्रसारित करने की योजना बनाई गई है। क्योंकि दादी-नानी की कहानियां केवल कुछ किस्से या कहावतें नहीं हैं, बल्कि वो एक ऐसी परंपरा है। जिसमें खेल-खेल में ही बच्चों में अच्छे संस्कारों और आदर्शों को प्रोजेक्ट किया जाता है। इन्ही बातों को ध्यान में रखकर आईसीडीएस यूनिसेफ और प्रथम बुक्स ने एक अनोखी पहल शुरू की है। इससे बच्चे अब एक मिस्ड काॅल पर कहानियां सुन सकते हैं।

आंगनबाड़ी सेविकाएं और सहायिकाएं करेंगी अभिभावकों को जागरूक
इस कार्यक्रम को आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका के द्वारा बच्चों व उनके परिजनों को जानकारी दी जाएगी। विभाग के द्वारा सभी सेविका और सहायिका को निर्देश दिया गया है। ताकि बच्चे इसका पूरा लाभ उठा सकें। कार्यक्रम के तहत दादी, नानी की आवाज के साथ ही बॉलीवुड के सेलिब्रिटी की आवाज में भी कहानियों को सुन सकते हैं। कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य है कि बच्चों को पढ़ने व सुनने की संस्कृति को विकसित करना है। कोरोना के दौरान सभी प्रकार के शैक्षणिक संस्थान बंद हैं। ऐसी स्थिति में छोटे बच्चों के मन में कई प्रकार के सवाल आते हैं। इन सवालों के जरिए यूनिसेफ व आईसीडीएस के द्वारा पहल की गयी है। 

08033094243 नंबर पर करना होगा काॅल
कोरोना संकट काल में बच्चों को साइको सोशल सपोर्ट देने के लिए यह पहल शुरू की गयी है। “मिस्ड काॅल दो कहानी सुनो” गतिविधि के तहत 08033094243 नंबर उपलब्ध कराया गया है। जैसे ही मिस्ड काॅल कटेगा। आपके नंबर पर एक काॅल वापस आएगा। जिसमें कुछ निर्देशों का पालन करना होगा। जैसे भाषा चयन और उम्र की जानकारी ली जाएगी। जिसके बाद प्रसारण चालू हो जाएगा।

जागरूक करने के लिए सेविकाओं को दिया निर्देश
इस कार्यक्रम को आंगनवाड़ी सेविका, सहायिका द्वारा बच्चों व उनके परिजनों को जानकारी दी जाएगी। इसके लिए सभी सीडीपीओ, एलएस, सेविका और सहायिका को निर्देश दिया गया है। बच्चे इसका लाभ उठाना भी शुरू कर दिए हैं। - राखी कुमारी, डीपीओ, आईसीडीएस सुपौल।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें