पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बेपरवाह व्यवस्था:गाइडलाइन का उल्लंघन, कोरोना संक्रमण से बेफिक्र कोचिंग संस्थानों का संचालन जारी

किसनपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बंद के बावजूद सक्सेस कोचिंग सेंटर में पढ़ते बच्चे। - Dainik Bhaskar
बंद के बावजूद सक्सेस कोचिंग सेंटर में पढ़ते बच्चे।
  • 11 अप्रैल तक शैक्षणिक संस्थानों के बंदी का है निर्देश, नहीं हो रहा इस पर अमल
  • सरकारी निर्देश के आलोक में शिक्षा विभाग नहीं कर रहा जांच-पड़ताल

कोरोना का दूसरा लहर विश्व समुदाय के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव द्वारा डीएम व डीईओ को कोविड-19 संक्रमण के कारण राज्य के सभी सरकारी एवं गैर सरकारी शिक्षण संस्थानों को 11 अपैल तक बंद रखने का आदेश दिया गया है। कहा गया है कि पूर्व के भांति उक्त शिक्षण संस्थान कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए शिक्षक कर्मी उपस्थित रहेंगे। जहां जिला से जारी आदेशानुसार जिले के सभी सरकारी व गैर सरकारी शिक्षण संस्थान को 05 अप्रैल से 11 अप्रैल तक बंद रखने का आदेश निर्गत किया गया है। बावजूद प्रखंड के कई निजी शिक्षक संस्थान संचालक लगातार दूसरे दिन मंगलवार को भी सरकार व जिलाधिकारी के आदेश का खुले आम धज्जियां उड़ाते नजर आए। निजी शिक्षण संस्थान के संचालक संस्थान में पढ़ रहे बच्चों की जिंदगी को खतरे में डाल रहे हैं। मंगलवार को जब निजी शिक्षण संस्थानों का पड़ताल किया तो कई निजी शिक्षण संस्थान खुले दिखे। कई संस्थान मेनगेट बन्द कर तो कई बिना गेट बंद किए बच्चों को पढ़ाते नजर आए। इस दौरान आदर्श बाल निकेतन थरबिटिया आदर्श शिक्षा निकेतन थरबिटिया, सक्सेस कोचिंग सेंटर थरबिटिया सहित अन्य कोचिंग संस्थानों में बच्चों को पढ़ाते देखा गया। 08 बजे आदर्श बाल निकेतन के कोचिंग संचालक अजय कुमार 70 से 80 बच्चों के साथ पठन पाठन कर रहे थे। पूछने पर बताया कि जारी गाइड लाइन का मुझे पता नहीं है। आज से कोचिंग को बंद कर दिया जाएगा।

विभागीय अधिकारियों की शिथिलता से संचालक भय मुक्त
08:19 बजे सक्सेस कोचिंग सेंटर थरबिटिया के संचालक संजय कुमार मेहता करीब 35 बच्चों को पढ़ा रहे थे। जहां संस्थान में पढ़ाई जारी रहने का कारण पूछने पर संचालक कई तरह के बहाने बनाने लगे। इसी तरह कई अन्य निजी शिक्षक संस्थानों में भी बेरोकटोक पठन पाठन जारी था। निबंधित निजी स्कूल के संचालकों का कहना है कि साल भर से हमलोगों का स्कूल बंद है। लेकिन कोचिंग संचालक खुले आम संचालन करते रहे।

आदर्श शिक्षा निकेतन में पढ़ते विद्यार्थी।
आदर्श शिक्षा निकेतन में पढ़ते विद्यार्थी।

फिलहाल संस्थान को नहीं करेंगे हम बंद
08:10 बजे आदर्श शिक्षा निकेतन के कोचिंग संचालक रामचंद्र कुमार करीब 45 बच्चों को लेकर पढ़ा रहे थे। उन्होंने बताया कि सरकार साल भर विद्यालय, कोचिंग संस्थान को बंद कर दिया। हमलोगों की आर्थिक स्थिति दयनीय हो गई। इधर, ठीक से संभले भी नहीं कि फिर से शिक्षण संस्थानों को बंद करने का आदेश निर्गत हो गया। ऐसे में हम लोग क्या करें? अन्य शिक्षण संस्थानों से पता करने पर जानकारी मिला की फिलहाल हम लोग संस्थान को बंद नहीं करेंगे। अगर संस्थान को आगे भी बंद रखने का आदेश जारी होगा तो बंद किया जाएगा।

कोचिंग खुला मिलने पर होगी कड़ी कार्रवाई
डीईओ द्वारा निजी कोचिंग/शिक्षण संस्थानों की जांच का आदेश मिला है। ऐसे में कोई संस्थान खुला पाया जाता है तो संबंधित के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।
-प्रभा कुमारी, बीईओ, किसनपुर।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने के लिए प्रयासरत रहेंगे। घर में किसी नवीन वस्तु की खरीदारी भी संभव है। किसी संबंधी की परेशानी में उसकी सहायता करना आपको खुशी प्रदान करेगा। नेगेटिव- नक...

    और पढ़ें