पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना की बढ़ती चेन:जांच में हर 5वां व्यक्ति मिल रहा संक्रमित एक दिन में रिकॉर्ड 507 नए पॉजिटिव मिले

सुपौलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महावीर चौक पर शुक्रवार की शाम बेवजह सड़कों पर घूम रहे मनचलों से उठक-बैठक कराती पुलिस। - Dainik Bhaskar
महावीर चौक पर शुक्रवार की शाम बेवजह सड़कों पर घूम रहे मनचलों से उठक-बैठक कराती पुलिस।
  • एक सप्ताह में 12058 सैंपल की जांच में 2444 की रिपोर्ट आई पॉजिटिव

जिले में कोरोना का कहर बदस्तूर जारी है। जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण के साथ जांच किट के कमी से जांच का दायरा घटता जा रहा है। बीते सप्ताह जिले के विभिन्न जांच केंद्रों पर जांच किट नहीं होने से जांच स्थगित करने की बात सामने आ चुकी है। जिले में कोरोना विकराल रूप धारण कर चुका है। स्थिति यह है कि जांच कराने आए संदिग्धों में से हर पांचवां व्यक्ति कोरोना संक्रमित निकल रहा है। इस माह में जिले में 12058 लोगों की सैम्पलिंग की गई है। इनमें 2444 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। यानी कि जांच में हर 5वां व्यक्ति संक्रमित पाया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की माने तो जांच का दायरा बढ़ाने पर संक्रमण का रफ्तार संक्रमितों के मिलने की संख्या और तेजी से बढ़ेगी। 7 दिनों में रोज जांच की संख्या बढ़ाने की अजाय घटाई जा रही है। 1 मई को जहां 3040 लोगों की सैंपलिंग ली गई थी। 7 तारीख को यह संख्या घटकर 1759 हो गई। शुक्रवार को संक्रमितों की संख्या और भयावह हो गई। 1759 लोगों की जांच में 507 लोग संक्रमित मिले। 100 लोगों में हर 30 कोरोना संक्रमित निकल रहे हैं।

सदर प्रखंड में सबसे अधिक 110 नए मरीज मिले
शुक्रवार को एक दिन में सबसे सबसे अधिक 507 नए संक्रमित मिले। सदर प्रखंड मेंे 110 केस सामने आए। बसंतपुर-64 छातापुर-34, किशनपुर-29, मरौना-33, निर्मली-11, पिपरा-55, प्रतापगंज-22, राघोपुर-70, सरायगढ़-43 त्रिवेणीगंज-29 नए मामले सामने आए। अन्य जिलों के 7 नए मरीज मिले। जिले में कुल 11695 मरीज मिले हैं। इनमें 8031 मरीज ठीक होकर घर लौट चुके हैं। 502 लोगों की जांच रिपोर्ट आनी बाकी है। जिले में कुल 3622 एक्टिव केस हैं। कोरोना से अब तक 43 लोगों की मौत हो चुकी है।

बेवजह घर से निकलेे मनचलों को उठक-बैठक करा रही पुलिस
जिले में तेज गति से कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ रही है। एहतियातन जारी लॉकडाउन के दौरान सड़कों पर न निकलने की हिदायत दी जा रही है। इसके बावजूद लोग संभलने का नाम नहीं ले रहे हैं। मनचलों का बेवजह सड़कों पर घूमना निरंतर जारी है पुलिस-प्रशासन भी ऐसे लोगों को सबक सिखाने में पीछे नहीं हट रही है। प्रतिदिन दर्जनों बिना वजह घर से निकलने वाले लोगों पर जमकर लाठी बरसा रही है। शुक्रवार को सड़कों पर चलने वाले लोग सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते भी देखे गए। बार-बार सरकार व पुलिस पदाधिकारियों द्वारा अपील करने के बावजूद लोग इस बीमारी को लेकर सजग नहीं हो रहे हैं। गौरतलब है कि जिले में 3 दिनों से लॉकडाउन है। जरूरी सामान के लिए भी सुबह 11 बजे तक ही लोगों को निकलने की अनुमति है।

खबरें और भी हैं...