मिला न्याय / 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म मामले में एक दोषी को आजीवन कारावास

X

  • एडीजे-वन की अदालत ने सुनाया फैसला, 1.5 लाख का जुर्माना भी लगाया
  • त्रिवेणीगंज थाना क्षेत्र का करहरवा निवासी है दोषी अर्जुन यादव

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

सुपौल. नाबालिग से दुष्कर्म के एक मामले में एडीजे प्रथम अशोक कुमार सिंह की अदालत ने मंगलवार को एक अभियुक्त को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। कोर्ट ने त्रिवेणीगंज थाना के करहरवा निवासी अर्जुन यादव पर जुर्माना भी लगाया है। कोर्ट ने भादवि की धारा 376 के तहत 10 साल का कठोर कारावास व 50 हजार जुर्माना, 364 के तहत 10 साल व 50 हजार जुर्माना और भादवि की धारा 302/201 के तहत आजीवन कारावास(शेष प्राकृत जीवन के अंतिम सांस तक) और 50 हजार के अर्थदंड की सजा सुनाई। सभी सजाएं साथ-साथ चलेगी और अर्थदंड की राशि पीड़िता के माता-पिता को देनी होगी। अभियोजन की तरफ से विशेष लोक अभियोजक नीलम कुमारी और बचाव पक्ष से विनोदकांत झा ने बहस की। अभियोजन पक्ष से डॉक्टर और पुलिस सहित 14 लोगों ने गवाही दी। पुलिस ने जांच के बाद 17 नवंबर 2018 को ही अभियुक्त के खिलाफ चार्जशीट समर्पित किया था। त्रिवेणीगंज थाना में दर्ज केस में अर्जुन यादव पर छह साल की एक लड़की से दुष्कर्म करने का आरोप है। कोर्ट ने 16 मार्च 2020 को पॉक्सो कांड संख्या 47/18 की सुनवाई करते हुए नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपित अर्जुन यादव को भादवि की धारा 376, 4/6 पॉक्सो एक्ट के तहत दोषी करार दिया था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना