कोरोना / क्वारेंटाइन सेंटर में नहीं मिली जगह, गांव के स्कूल में ली शरण

No place found in quarantine center, took refuge in village school
X
No place found in quarantine center, took refuge in village school

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

सुपौल. क्षेत्र के नौआबाखर पंचायत स्थित भेेलवा गांव के सात प्रवासी मजदूरों को क्वारेंटाइन सेंटर में जगह नहीं मिलने से गांव के स्कूल में शरण लेने को हुए मजबूर, परिजन व ग्रामीण भी गांव आने से कर मना रहे हैं। 
   उत्क्रमित मध्य विद्यालय भेलवा में शरण लिए सात मजदूरों ने बताया कि वे लोग शुक्रवार की शाम 5 बजे के आसपास महाराष्ट्र से ट्रेन से सुपौल पहुंचे। जहां सुपौल में जांच के बाद किसनपुर प्रखंड भेजा गया। जिसके बाद इन 7 मजदूराें को उत्क्रमित मध्य विद्यालय हासा में बने क्वारेंटाइन सेंटर भेजा गया। सेंटर पर अधिक प्रवासी के होने के कारण इनलोगों को प्रवेश नहीं मिला। जिसके कारण वह टोला मुहल्ले के इर्द गिर्द घूमते रहे। मुहल्ले में घूम रहे प्रवासी हजारी शर्मा, जितेन्द्र शर्मा, पंकज कुमार, धर्मेन्द्र कुमार, जयप्रकाश कुमार, रूपेश कुमार, सूरत लाल शर्मा ने बताया कि रेलगाड़ी से हम 6 आदमी महाराष्ट्र और एक आदमी यूपी से आ रहे है। 
   जहां सुपौल में जांच करने के बाद किसनपुर में भेज दिया गया। जिसके बाद वहां से उत्क्रमित मध्य विद्यालय हासा में बने क्वारेंटाइन सेंटर भेजा गया लेकिन यहां जगह नहीं रहने के कारण हमलोगों को क्वारेंटाइन सेंटर से वापस कर दिया गया। इस बाबत आरडीओ अजीत कुमार ने बताया कि हमें जानकारी नहीं थी। तुरंत सभी लोगों से सम्पर्क कर क्वारेंटाइन सेंटर में शिफ्ट कराया जाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना