तैयारी:घाटों की सफाई में जुटा प्रशासन, रोशनी के साथ होगी बैरिकेडिंग की व्यवस्था

ठाकुरगंज25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ठाकुरगंज में घाटों की सफाई कराता नगर प्रशासन। - Dainik Bhaskar
ठाकुरगंज में घाटों की सफाई कराता नगर प्रशासन।
  • लोकआस्था के महापर्व छठ की चल रही तैयारी, चार दिवसीय छठ पर्व आठ नवंबर को नहाय-खाय से होगा शुरू

चुनावी माहौल के बीच लोक आस्था का पर्व के आगमन की आहट प्रखंड सहित सीमावर्ती क्षेत्रों में दिखाई देने लगी है। बांस के बने टोकरी, सूप, दीयों के अलावा फलों की खरीदारी से बाजारों में रौनक छाने लगी है। नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित घाटों की सफाई-व्यवस्था में प्रशासन और लोग जुट गए हैं। नगर के भातडाला, सागडाला संग अन्य घाटों पर मुख्य पार्षद प्रमोद कुमार चौधरी, उपमुख्य पार्षद संजय यादवेन्दु व पूर्व उपमुख्य पार्षद सह पार्षद प्रतिनिधि कुष्ण कुमार सिंहा भी अपनी देखरेख में सफाई संग अन्य व्यवस्था करने में लगे हैं। संपर्क पथ, घाटों की सफाई, चेंजिंग रूम, रोशनी की व्यवस्था, बैरिकेडिंग, गोताखोरों की व्यवस्था की कवायद आरंभ है। लोगों में लोक आस्था के महापर्व को लेकर उत्साह चरम पर है। ग्रामीण इलाकों में चुनावी माहौल में लोक आस्था पर्व के गीत भक्तिमय माहौल को कायम कर रहे हैं। लोग अपने-अपने घाटों को सुंदर व व्यवस्थित ढंग से संवारने में लगे हुए हैं। चार दिवसीय लोक आस्था का महापर्व आठ नवंबर से नहाय-खाय से आरंभ है। नौ नवंबर को खरना, दस को पहला अर्घ्य व 11 को दूसरे अर्घ्य के साथ समापन है। यह पर्व लोगों को स्वच्छता के साथ अनेकता में एकता का संदेश देती है। एक ही घाट में सभी लोग अमीरी-गरीबी, वेश-भूषा व ऊंच-नीच का भेद्भाव काे भुलकर डूबते व उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देते हैं। पावन पर्व के मौके पर व्रती निर्जला 36 घंटे का व्रत रखती हैं। पर्व पर स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जाता है।

छठ घाटों का मुआयना करती अधिकारियों की टीम।
छठ घाटों का मुआयना करती अधिकारियों की टीम।

बीडीओ व सीओ ने घाटों का निरीक्षण कर व्यवस्था दुरुस्त करने के दिए निर्देश

टेढ़ागाछ| छठ महापर्व को लेकर प्रखंड विकास पदाधिकारी गनौर पासवान, अंचलाधिकारी अजय चौधरी, थाना अध्यक्ष तरुण कुमार तरुणेश ने छठ घाटों का दौरा किया। बेमौसम बारिश की वजह से नदियों एवं तालाबों में पानी ज्यादा होने के कारण प्रशासन के तरफ से सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए जाने का भरोसा अधिकारियों ने दिलाया है। बीडीओ ने बताया कि घाटों पर बैरिकेडिंग की व्यवस्था के साथ इस बार गोताखोर को भी सुरक्षा की जिम्मेदारी दी गई है। कोरोना महामारी को देखते हुए घाटों पर साफ सफाई की जा रही है। जिसमें सामाजिक संगठनों के लोगों का भी सहयोग लिया जा रहा है। रतुआ नदी स्थित सुहिया छठ घाट का स्थल निरीक्षण के दौरान सीओ ने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था को लेकर मजिस्ट्रेट के देख रेख में पुलिस बलों की भी तैनाती की जाएगी। वहीं थानाध्यक्ष तरुण कुमार तरुणेश ने बताया कि छठ महापर्व को लेकर असमाजिक तत्वों पर निगरानी रखने के लिए पुलिस सादे लिवासों में नजर रखने का काम करेगी। असामाजिक तत्वों के तरफ से कोई गड़बड़ी या अफवाहें फैलाने पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी। इस मौके पर चिल्हनिया पंचायत के अनिल पासवान, दीप लाल माझी, डाकपोखर पंचायत के मनोज यादव, निखिल कुमार दास, शंभू कुमार, मटियारी पंचायत के सबदर हुसैन, वार्ड सदस्य लक्ष्मी साह, भोरहा पंचायत के अबू बकर, मुक्ति चन्द्र दास सहित कई ग्रामीण मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...