पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कारवाई:चुनाव आयोग के भय से सीमावर्ती क्षेत्र में पुलिस की बदली चाल, पुराने से पुराने मामलों में हो रही कारवाई

ठाकुरगंज7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भारत-नेपाल सीमावर्ती क्षेत्र में संयुक्त गश्त करते एसएसबी और पुलिस के जवान।
  • समाज में अशांति फैलाने वालों पर की जाएगी सख्त कार्रवाई : एसपी

बिहार के आखिरी और तीसरे चरण में सीमावर्ती क्षेत्रों में होने वाले मतदान को लेकर जिला प्रशासन सजग व सतर्क है। इसे चुनाव आयोग का भय कहे या और कुछ, लेकिन जिला प्रशासन के निर्देश के आलोक में सीमावर्ती क्षेत्र की पुलिस-प्रशासन की चाल बिल्कुल नजर आ रही है। प्रखंड के कार्यालयों से लेकर पुलिस थानो में अधिकारी कार्य करते देखे जा रहे हैं। मामलों में सुलह या समक्षौता कराने वालो की नहीं सुनी जा रही है। पुराने से पुराने मामले के आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजने की प्रक्रिया जारी है तो दूसरी जारी वारंटियों की घरपकड़ की जा रही है। इसके अलावा दागी लोगों संग समाज में विद्वेष फैलाने वालों व अशांति फैलाने की सूची तैयार करने के साथ कार्रवाई भी जारी है। ताकि भयमुक्त, शांतिपूर्ण माहौल में मतदाता सजग, सजग व सुगमता से अपने मतदान का प्रयोग कर सके।

ठाकुरगंज सर्किल में 2386 लोगों पर की गई निरोधात्मक कार्रवाई
नेपाल-बंगाल सीमा पर बसे ठाकुरगंज सहित सीमावर्ती क्षेत्रों में संवेदनशील और अतिसंवेदनशील, दुर्गम बूथों की पहचान कर पुलिस-प्रशासन कार्रवाई में लगी हुई है।जांच अभियान संग संयुक्त गश्त अभियान भी लगातार चल रहा है। ठाकुरगंज सर्किल इंस्पेक्टर दुर्गेश राम ने बताया कि चुनाव को लेकर सीमावर्ती पुलिस अलर्ट मोड पर रहकर कार्य कर रही है। ठाकुरगंज सर्किल के विभिन्न थानों की पुलिस ने 2386 लोगों पर निरोधात्मक कार्रवाई की है। 44 लोगों पर सीसीए थ्री और एक पर 12/2 का प्रस्ताव जिला भेजा गया है। ठाकुरगंज थाने में 509 लोगो पर निरोधात्मक कार्रवाई के साथ 18 पर सीसीए थ्री और एक पर 12/2 का प्रस्ताव भेजा गया है। गलगलिया थाने में 294 लोगों पर निरोधात्मक कार्रवाई के साथ दस पर सीसीए थ्री का प्रस्ताव भेजा गया है।

सीमावर्ती क्षेत्रों पर सुरक्षा एजेंसी हमेशा रहती है पैनी नजर
बिहार के आखिरी कोने पर बसा ठाकुरगंज सहित सीमावर्ती क्षेत्रों की सीमा नेपाल व बंगाल की खुली सीमा से सटती है।जिसके कारण विभिन्न थानो संग सीमा पर एसएसबी, कस्टम कार्यालय संग अन्य सुरक्षा एजेंसियों की शाखा स्थापित है। जिसके कारण मादक पर्दाथ, विदेशी लोगो, हथियार, तस्करी के मवेशी ,चाइनीज मटर की जब्ती संग संदिग्ध असमाजिक तत्वों की गिरफ्तारी होती रहती है। 17 अगस्त को सुरीभीट्टा से बेतुल्ला (40) और जियापोखर थाना क्षेत्र के चौऊआभीट्टा से मुख्तार (42) को जाली नोट तस्करी मामले में गिरफ्तार किया था। यही कारण है कि चुनावी माहौल में सुरक्षा एंजेसियो की पैनी नजर सीमावर्ती क्षेत्रों पर लगी हुई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें