पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मांग:बारिश या बाढ़ से खेत में लगी फसल का 33 प्रतिशत से अधिक क्षति होने पर दें रिपोर्ट

ठाकुरगंज8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रखंड मुख्यालय सभागार में आयोजित बैठक में निर्देश देते एएसडीएम। - Dainik Bhaskar
प्रखंड मुख्यालय सभागार में आयोजित बैठक में निर्देश देते एएसडीएम।
  • फसल क्षति आंकलन के लिए हुई बैठक, पंचायतों का भी लिया गया जायजा
  • कोताही बरतने वालों पर की जाएगी कार्रवाई

जिलाधिकारी के निर्देश के आलोक में प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में बरसात या बाढ़ के कारण क्षति हुई फसलों का आंकलन के लिए गठित टीम की बैठक रविवार को प्रखंड के सभागार में हुई। जिसका नेतृत्व एएसडीएम साकेत कुमार ने की। उन्होंने उपस्थित सीओ ओमप्रकाश भगत, कृषि अधिकारी राजेश कुमार, कृषि समन्वयक सत्येंद्र कुमार व किसान सलाहकारों को निर्देश दिया कि किसी भी पंचायत में भारी बारिश या बाढ़ से खेत में लगे फसल का 33 प्रतिशत से अधिक क्षति हुई है तो उसका आंकलन कर रिर्पोट दें। इसमें कोताही बरतने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। साथ ही उन्होंने अवैध खनन की सूचना देने का निर्देश दिया। सीओ व कृषि अधिकारी ने बताया कि प्रखंड के खारूदाह, पथरिया, सखुआडाली व कुछ अन्य स्थानों पर कटाव के कारण फसल लगी जमीन विलीन हुई है। बैठक के बाद अधिकारियों की गठित टीम ने सखुआडाली पंचायत का दौरा करते हुए फसल क्षति आंकलन का जायजा लिया। लेकिन कहीं भी फसल क्षति की सूचना किसानों द्वारा नहीं दी गई। एएसडीएम ने कहा कि जिलाधिकारी के निर्देश के आलोक में भारी बरसात या बाढ़ से फसल क्षति आंकलन के लिए एक टीम गठित की गई है। ठाकुरगंज प्रखंड के लिए गठित टीम में मेरे अलावा सीओ, कृषि अधिकारी, कृषि समन्वयक व संबंधित पंचायत के किसान सलाहकार शामिल हैं। इसी क्रम में प्रखंड का दौरा करते हुए कुछ पंचायतों का जायजा लिया गया है।

खबरें और भी हैं...